दिल्ली पहुंची तूफानी आंधियां, लोगों को घर में रहने की सलाह, स्कूल बंद

नई दिल्ली : उत्तर भारत के कई राज्यों में आनेवाला तूफान राजस्थान, पंजाब, हरियाणा से होता हुआ दिल्ली-NCR पहुंच गया है. पश्चिमी दिल्ली में आंधी शुरू हो गई है. पालम, द्वारका, गुरुग्राम में तेज हवाएं चल रही हैं. कई इलाकों में बिजली गुल हो गई है. मौसम विभाग ने कहा है कि अगले 3 से 4 घंटे के दौरान दिल्ली और एनसीआर में 50-70 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी. कुछ इलाकों में बारिश भी हो सकती है.

धूल भरी आंधी के अलर्ट के कारण दिल्ली में मंगलवार को सभी ईवनिंग स्कूलों को बंद रखने का आदेश दिया गया है. तूफान की आशंका के कारण उत्तर भारत के कई राज्य अलर्ट पर हैं. उत्तर प्रदेश के कई जिलों में मंगलवार को स्कूल बंद रहेंगे. गाजियाबाद और मेरठ जिले के सभी स्कूल बंद रहेंगे. इससे पहले राजस्थान के बीकानेर के आसपास के इलाके में सोमवार शाम को रेतीले तूफान का गुबार देखने को मिला. झूंझनू और सीकर जिलों में धूल भरी आंधी चली. इससे राजस्थान के कई जिलों में बिजली आपूर्ति ठप हो गई है.

दिल्ली और एनसीआर के आसपास के कुछ इलाकों में बूंदाबांदी भी हुई है. आपको बता दें कि मौसम विभाग ने देश के 13 राज्यों में भारी आंधी-तूफान आने की चेतावनी जारी की है. सोमवार रात करीब 9 बजे मौसम विभाग द्वारा जारी किए गए अलर्ट में दिल्ली-एनसीआर और उसके आसपास स्थित हरियाणा के जींद, हिसार, रोहतक, भिवानी में तेज आंधी-तूफान और हल्की बारिश की चेतावनी जारी की गई.

आगरा में भी चेतावनी

आगरा में मौसम विभाग ने तूफान का पूर्वानुमान लगाते हुए चेतावनी जारी की है. अगले 24 घंटे के अंदर तूफान की आशंका के मद्देनजर मंगलवार को स्कूलों की छुट्टी कर दी गई है. पिछले दो बार यहां तूफान की रफ्तार 130 और 132 किलोमीटर प्रति घंटा रही है. इससे अधिक गति का तूफान और अधिक खतरनाक हो सकता है.

पिछले दिनों रेतीले तूफान और बारिश से देश में 100 से ज्यादा लोगों की जान चली गई थी और करीब 200 लोग घायल हो गए थे. ऐसे में प्रशासन भी इस बार अलर्ट है.