राहुल गांधी का सवाल- मोदी जी आपको बिल्कुल शर्म नहीं आती ?

पीएम मोदी की इससे बड़ी कोई बेइज्जती नहीं हुई होगी. जिन राहुल गांधी को वे पप्पू कहते रहे है उन्होंने मोदी से सीधे पूछा है कि उन्हें ज़रा भी शर्म आती है. दर असल मामला अमेठी में ऑर्डिनेंस फैक्ट्री की यूनिट के उद्घाटन का है. इस फैक्ट्री में सेना के लिए अत्याधुनिक एके-203 राइफलों का निर्माण किया जाएगा. यह एके-47 की तीसरी पीढ़ी की असाल्ट राइफल है.

राहुल गांधी ने क्या कहा उससे पहले जान लें कि मोदी ने क्या कहा जिस पर राहुल गांधी को गुस्सा आ गया. दरअसल मोदी ने  विपक्ष पर तंज कसते हुए कहा था कि अब अमेठी की पहचान किसी नेता या परिवार के नाम से नहीं बल्कि यहां के कारखाने से होगी. इसे लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर हमला बोलते हुए उन्हें झूठा बताया है और पूछा कि क्या आपको ज़रा भी शर्म नहीं आती है.

राहुल गांधी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ‘प्रधानमंत्री जी, अमेठी की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री का शिलान्यास 2010 में मैंने खुद किया था. पिछले कई सालों से वहां छोटे हथियारों का उत्पादन चल रहा है. कल आप अमेठी गए और अपनी आदत से मजबूर होकर आपने फिर झूठ बोला. क्या आपको बिल्कुल भी शर्म नहीं आती?’

प्रधानमंत्री जी,

अमेठी की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री का शिलान्यास 2010 में मैंने खुद किया था।

पिछले कई सालों से वहां छोटे हथियारों का उत्पादन चल रहा है।

कल आप अमेठी गए और अपनी आदत से मजबूर होकर आपने फिर झूठ बोला।

क्या आपको बिल्कुल भी शर्म नहीं आती?— Rahul Gandhi (@RahulGandhi) March 4, 2019

मोदी ने अपनी सभा में कहा था कि इन (कांग्रेस) लोगों ने देश की सुरक्षा की परवाह नहीं की. इन लोगों ने ही सेना के जवानों के लिए बुलेट प्रूफ जैकेट नहीं खरीदे. इन लोगों ने ही तोप के लिए सेना को इंतजार करवाया और अब राफेल विमान का सौदा न हो इसके लिए झूठ पर झूठ बोल रहे हैं. राफेल विमान से देश की सेना की ताकत बढ़ेगी, लेकिन कमीशन न मिल पाने से नाराज कांगेस के लोग ये सौदा नहीं होने देना चाहते.

दर असल जब पीएम मोदी भाषण दे रहे थे तो अमेठी में भीड ने काफी हंगामा किया. लोगों ने चौकीदार चोर है के नारे भी लगाए. शोर इतना ज्यादा था कि मंच पर बैठी रक्षा मंत्री और अन्य नेताओं के चेहरे की रंगत उड़ गई. डर था कि कहीं ज्यादा गड़बड़ न हो जाए. हालांकि ये नारेबाज़ी उतनी रिपोर्ट नहीं हुई.

Leave a Reply

Your email address will not be published.