एमआरआई मशीन बन गई जानलेवा, एक छोटी सी गलती ने 10 सैकेण्ड में ली जान

एमआरआई मशीन बन गई जानलेवा, एक छोटी सी गलती ने 10 सैकेण्ड में ली जान

मुंबई: मुंबई के नायर अस्पताल में एक दिल दहलाने वाला हादसा हो गया. 32 साल के राजेश मारू को MRI मशीन ने इस कदर अपनी तरफ खींच लिया कि उसके हाथ में पकड़ा हुआ ऑक्सीजन सिलिंडर खुल गया और गैस पूरी पेट मे चली गई. बताते हैं कि गैस पेट में जाते ही वो गुब्बारे की तरह फूलने लगा. आंखें बाहर आ गईं और उसी जगह पर उसकी मौत हो गई.

राजेश मारू के जीजा हरीश सोलंकी ने बताया कि उनकी मां की तबियत खराब थी इसलिए नायर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. डॉक्टरों ने मां का MRI करवाने के लिए कहा. साथ में वो खुद भी था. आरोप है कि MRI रूम के बाहर अस्पताल के वार्ड बॉय ने शरीर पर से घड़ी ओर सोने की चैन तो उतरवा ली लेकिन मरीज को दिया जा रहा ऑक्सीजन सिलिंडर अंदर ले जाने को कहा. हरीश के मुताबिक, उन्होंने विरोध किया लेकिन साथ में आए वार्ड ब्यॉय ने बताया कि अभी मशीन बंद है. उसके बाद जैसे ही राजेश कमरे में अंदर गया मशीन ने सिलिंडर को अपनी तरफ खींच लिया.

सिलिंडर को पकड़े हुए राजेश भी मशीन में चला गया. तभी दबाव से सिलिंडर का ढक्कन खुल गया और पूरी गैस राजेश के पेट मे चली गई. हरीश का कहना है कि वार्ड ब्यॉय के साथ मिलकर हमने तुरंत उसे खींचना चाहा. उसे खींच भी लिया लेकिन तब तक वो उसकी आंखें बाहर आ चुकी थीं.

इस पूरे मामले को लेकर अग्रिपाड़ा पुलिस जांच कर रही है. पुलिस मृतक के रिश्तेदारों के अलावा अस्पताल के वार्ड बॉय और टेक्नीशियन से भी पूछताछ कर रही है लेकिन जिस तरह ये हादसा हुआ है, वह लापरवाह अस्पताल प्रशासन की पोल खोलने के लिये काफी है.