अमेरिका में पढ़ने वाली छात्रा की छेड़खानी के दौरान सड़क हादसे में मौत

लड़की बेहद प्रतिभाशाली थी. 4 करोड़ का स्कॉलरशिप मिली थी. वो भी अमेरिका में पढ़ने के लिए. लॉक डाउन में भारत आई. गरीब ढाबे वाले के पिता की बेटी चाचा के साथ स्कूटी पर रिश्तेदार के घऱ जा रही थी. रास्ते में यूपी के बेखौफ गुंडे मिले. इन मनचलों ने छेड़छाड़ की. चाचा ने स्कूटी तेज चलानी शुरू कर दी. बदमाशों में अपनी बुलट गाड़ी के आगे लाकर रोक दी.

बड़ा हादसा हुआ और लड़की की मौत हो गई. एक चाचा के सामने उसकी भतीजी के साथ छेड़छाड़ हो रही थी लेकिन वो कुछ बोल नहीं सका क्योंकि पता था कि हालात ठीक नहीं हैं. उसने बच निकलने की कोशिश की. लडकी का नाम सुदीक्षा भाटी है और वो गौतमबुद्ध नगर के दादरी की रहने वाली थी. एचसीएल 3.80 करोड़ की स्कॉलरशिप पर वह अमेरिका के बॉब्सन में पढ़ाई कर रही थीं. हाल ही में वो छुट्टियों में घर आई हुई थीं. जो सुदीक्षा केसाथ हुआ उससे भी भयावह वारदात गुजरात में भी हुई . उस पर जाएंगे इससे पहले सुदीक्षा की पूरी खबर बता दें. 

सुदीक्षा भाटी के परिजनों का आरोप है कि जब बाइक से वह औरंगाबाद जा रहे थे, तब उनकी बाइक का बुलेट सवार दो युवकों ने पीछा किया. कभी युवक अपनी बुलेट को आगे निकालते तो कभी छात्रा पर कमेंट पास करते. इतना ही नहीं, ये सिरफिर चलते-चलते स्टंट भी कर रहे थे.

उधर उत्तर प्रदेश की बेशर्म पुलिस ने इस मामले को सिरे से झुठला दिया है. पुलिस का कहना है कि एक्सीडेंट हुआ है. छेड़छाड़ से कोई लेना देना नहीं पुलिस मामले को झुठला रही है. कुछ दिन के बवाल के बाद यूपी सरकार थोड़ा मुआवजा देकर परिवार को शांत कर देगी. और वो चाहे भी तो भी बोल नहीं सकेगा. पुलिस का कहना है कि मृतक पक्ष ने अभी तक तहरीर नहीं दी गई है इसलिए मुकदमा दर्ज नहीं हुआ है, फिर भी पुलिस यह कह रही है कि विधिक कार्यवाही की जा रही है. मतलब इतनी बड़ी वारदात के लिए भी पुलिस को तहरीर चाहिए.

ये भी पढ़ें :  लड़कियों को थोक सप्लायर था बाबा? 14 तालों में बंद थीं 41 लड़कियां, कोठों पर होगी तलाश

सुदीक्षा को 20 अगस्त को अमेरिका वापस जाना था. इससे पहले ही सड़क हादसे में उनकी जान चली गई. बता दें कि देश की टॉप आई टी कंपनी की तरफ से अमेरिका पढ़ने के लिए 3.80 करोड़ रुपये की स्कॉलरशिप दी गई है.

गौतमबुद्ध नगर के दादरी तहसील की रहने वाली सुदीक्षा बेहद गरीब परिवार से ताल्लुक रखती हैं. सुदीक्षा के पिता ढाबा चलाते हैं. सुदीक्षा ने बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय स्कूल से कक्षा पांच तक पढ़ाई की. प्रवेश परीक्षा के जरिये सुदीक्षा का एडमिशन एचसीएल के मालिक शिव नाडर के सिकंदराबाद स्थित स्कूल में हुआ था. सुदीक्षा ने कक्षा 12 में बुलंदशहर टॉप किया और इसके बाद उच्च शिक्षा के लिए उनका चयन अमेरिका के एक कॉलेज में हुआ. पढ़ाई के लिए सुदीक्षा को एचसीएल की तरफ से 3.80 करोड़ रुपये की स्कॉलरशिप भी दी गयी थी.

अब वारदात गुजरात की अहमदाबाद से एक ऐसा मामला सामने आया जहां अपने घर में नहा रही एक लड़की को देख रहे एक शख्स को जब लड़की की दादी ने रोका तो विवाद इतना बढ़ गया कि उसने तीन लोगों की हत्या कर दी.

ये भी पढ़ें :  लड़की के सीने से जब निकला लड़के का दिल, आजतक सच पता नहीं लगा सकी सीबीआई

मामला अहमदाबाद के धोलका के वासणा गांव का है, यहां बीती रविवार को एक साथ 3 महिला यानी सास, बहू और उसकी बेटी की हत्या कर दी गई. तेज धार वाले चाकू से हत्या करने के बाद आरोपी वहां से भाग निकला.

सूचना मिलते ही जब पुलिस मौके पर पहुंची और जांच शुरू की तो पता चला कि पड़ोस का रहने वाला विजय पटेल इस मामले का मुख्य आरोपी है. आखिरकार पुलिस ने जब विजय पटेल को गिरफ्तार किया तो पूरे मामले का खुलासा हुआ और उसने खुद अपना जुर्म स्वीकार कर लिया.

आरोपी विजय उस लड़की को तब देख रहा था जब वह नहा रही थी. जैसे ही लड़की की दादी ने यह सब देखा तो उसने इसका विरोध किया और विजय पटेल को डांट दिया. इसी बात को लेकर विवाद बढ़ गया. विवाद इतना बढ़ गया कि विजय ने चाकू निकाल लिया.

गुस्से में विजय ने उसी वक्त ही लड़की, उसकी दादी और उसकी मां की हत्या कर दी. इसके अलावा एक अन्य लड़की घायल भी हो गई. फिलहाल विजय पटेल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उसने अपना जुर्म भी स्वीकार कर लिया है. पुलिस इस मामले की गहनता से जांच कर रही है.