कौन है क्रिकेट बुकी संजीव चावला, भारत लाने में क्यों लगे 20 साल

मैच फिक्सिंग मामले में बुकी संजीव चावला को दिल्ली पुलिस लंदन से भारत ले आई है. ये मामला सन 2000 का है जब  दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान हैंसी क्रोनिए को फिक्सिंग में पकड़ा गया ता. उनके साथ के साथ मैच फिक्सिंग में आए बड़े बुकी संजीव चावला को अब दिल्ली पुलिस भारत ला रही है.प्रत्यर्पण कानून के तहत लंदन प्रशासन ने संजीव चावला को भारत भेजने की हरी झंडी दे दी. उसके बाद उसे भारत लाया गया

उस समय दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा के एक इंस्पेक्टर ईश्वर सिंह ने खुलासा किया था कि एक बातचीत की रिकॉर्डिंग के दौरान हैंसी क्रोनिए और संजीव चावला ने मैच फिक्सिंग को लेकर आपस में बातचीत की थी. मैच फिक्सिंग के आरोपों में दक्षिण अफ्रीका के तीन अन्य खिलाड़ी हर्शल गिब्स निक्की बोए और स्टारडम भी आए थे.

शुरुआती दौर में हैंसी क्रोनिए ने इन तमाम आरोपों से इनकार किया था लेकिन बाद में उन्होंने कबूल किया था कि वह मैच फिक्सिंग में शामिल थे. दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट प्रशासन ने उनके पद से हटा दिया था और साल 2002 में हैंसी क्रोनिए की एक विमान दुर्घटना में मौत हो गई थी.

इधर जिस भारतीय बुकी संजीव चावला का नाम हैंसी क्रोनिए के साथ आया था वह उसके पहले ही लंदन भाग गया हालांकि दिल्ली पुलिस प्रशासन ने साल 2000 में ही उसका पासपोर्ट रद्द करा दिया था. लेकिन संजीव चावला लंदन जाने के बाद वापस नहीं लौटा और साल 2005 में लंदन की नागरिकता भी मिल गई और लंदन प्रशासन ने उसे पासपोर्ट भी जारी कर दिया.

दिल्ली पुलिस संजीव चावला के पीछे लगातार पड़ी रही और दिल्ली पुलिस को सफलता हासिल हुई 14 जून 2016 को जब दिल्ली पुलिस की याचिका के आधार पर संजीव चावला को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया. इसके बाद से संजीव चावला लगातार कानूनी दांव पेच खेलता रहा और खुद को भारत आने से बचता रहा लेकिन पिछले दिनों संजीव चावला को समय झटके लगे जब लंदन प्रशासन ने उसे भारत भेजने का निर्णय दे दिया.

संजीव चावला इस बाबत तमाम कानूनी लड़ाई हार गया. इसके बाद वह पिछले हफ्ते म अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार अदालत में भी गया लेकिन वहां की अदालत ने भी उसकी याचिका खारिज कर दी. इसके बाद लंदन प्रशासन ने उसे भारत भेजने का निर्णय किया. आज देर शाम लंदन प्रशासन ने संजीव चावला को लंदन में मौजूद भारतीय प्रशासन के अधिकारियों को हैंड ओवर कर दिया.

संजीव चावला के भारत आने के बाद ही मैच फिक्सिंग की दुनिया के अनेक खुलासे हो सकते हैं. साथ ही इसमें अनेक नाम सामने आ सकते हैं. जो भारतीय स्टार रह चुके हैं. लेकिन वास्तव में कहीं ना कहीं मैच फिक्सिंग में शामिल थे पुलिस सूत्रों ने बताया कि संजीव को दिल्ली जाने के बाद कोर्ट में पेश किया जाएगा जहां से उसे पूछताछ के लिए रिमांड पर लाया जाएगा.