सोनिया की संपत्ति रानी एलिजाबेथ से ज्यादा नहीं, पकड़ा गया सोशल मीडिया सेल का झूठ, सच ये है

चुनाव आ रहे हैं और अब झूठ भी जोर शोर से सामने आएगा सोशल मीडिया सेल काम पर हैं और हालत ये है कि खुद बीजेपी के बड़े नेता इस मामले में झूठ फैलाते पकड़े गए हैं. मामला उस झूठ का है जिसमे यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी की संपत्ति ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय से ज्यादा बताई गई थी. बीजेपी के नेता अश्विनी उपाध्याय ने खुद इसे फैलाया उन्होंने सोशल मीडिया पर एक फेक न्यूज आर्टिकल शेयर किया है जिसमें दावा किया गया है कि ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की तुलना में ज्यादा अमीर हैं.

ये जानकारी चौंकाने वाली थी जिसमें इंडिया टुडे फैक्ट चेक ने पाया कि ये दावा झूठा है. ये छह साल पुरानी मीडिया रिपोर्ट है जिसे बाद में गलत जानकारी की वजह से हटा लिया गया था. लेकिन चुनाव नज़दीक आते ही फिर से फैलाना शुरू कर दिया गया.

अश्विनी उपाध्याय ने अपनी पोस्ट में टाइम्स ऑफ इंडिया के एक लेख का हवाला दिया गया जो 2 दिसंबर 2013 को प्रकाशित हुआ था. टाइम्स ऑफ इंडिया के लेख में जानकारी के स्रोत के तौर पर अमेरिकी समाचार और ओपिनियन वेबसाइट ‘हफिंगटन पोस्ट’ का उल्लेख किया गया था.

टाइम्स ऑफ इंडिया के लेख में सोनिया गांधी को विश्व में 12वें नंबर की सबसे अमीर राजनेता बताया गया था लेकिन स्टोरी के आखिर में ये भी कहा गया था कि ‘हफपोस्ट रिपोर्ट ने ये साफ तौर पर नहीं ज़िक्र किया कि वो कैसे इस निष्कर्ष तक पहुंचा.’  

अपनी रिसर्च के दौरान हमने पाया कि हफिंगटन पोस्ट ने लेख प्रकाशित किया था जिसका शीर्षक था- ‘विश्व के अमीर नेता उससे भी ज्यादा अमीर हैं जितना कि आपने सोचा.’ हालांकि हमें लिस्ट में सोनिया गांधी का कहीं नाम नहीं मिला, लेकिन लेख के आखिर में संपादक की ओर से दिए नोट में साफ किया गया था कि सोनिया गांधी का नाम लिस्ट से हटा दिया गया है. हफिंगटन पोस्ट की ओर से साथ ही इस तथ्य पर खेद जताया गया कि लिस्ट को किसी थर्ड पार्टी की साइट से लिया गया था जिसकी पुष्टि वो अपने संपादकों से नहीं करा सकता.

इंडिया टुडे ने भी दिसंबर 2013 में रिपोर्ट किया था कि हफिंगटन पोस्ट ने सोनिया गांधी की संपत्ति की गणना सेलेब्रिटीनेटवर्थ डॉट कॉम से ली थी. इस वेबसाइट ने सोनिया गांधी की संपत्ति करीब 2 अरब डॉलर का अनुमान लगाया था. हालांकि वेबसाइट ने अपने ‘नियम और शर्तों ‘ में घोषित कर रखा है कि ‘ना तो हम और ना ही थर्ड पार्टी इस वेबसाइट पर उपलब्ध और प्रस्तुत सामग्री या जानकारी की शुद्धता, सामयिकता, प्रदर्शन, पूर्णता या उपयोगिता को लेकर कोई वारंटी या गारंटी देते हैं.’

सोनिया गांधी की ओर से 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान दाखिल हलफनामे में अपनी निजी संपत्ति 10 करोड़ रुपये और चल संपत्ति 2.82 करोड़ रुपये बताई थी.

हफिंगटन पोस्ट के मुताबिक ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की कुल आर्थिक हैसियत 45 करोड़ डॉलर यानि करीब 3100 करोड़ रुपये की है. ये आंकड़ा सोनिया गांधी की घोषित संपत्ति से कहीं ज्यादा है. इंडिया टुडे को ऐसी कोई विश्वसनीय न्यूज रिपोर्ट नहीं मिली जिसमें सोनिया गांधी की निजी संपत्ति की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की संपत्ति से तुलना की गई हो. जाहिर बात है खबर हर जांच में और हर पड़ताल में झूठी पायी गई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *