‘मैं नपुंसक हूं लेकिन मेरे तीन बच्चे हैं’

कहानी ब्रिटेन में रहने वाले एक ऐसे शख़्स की है जो एक सफल व्यवसायी हैं. वे तीन बच्चों के पिता हैं जिनमें से दो जुड़वा लड़कों की उम्र 19 साल और बड़े लड़के की उम्र 23 साल है.
लेकिन साल 2016 में एक डॉक्टरी जांच के दौरान इस शख़्स को पता चला कि वह एक ऐसी बीमारी से ग्रसित है जिसकी वजह से वह कभी बाप नहीं बन सकते थे.
ये बात सुनने में अजीब लग सकती है.
साल 2016 में जब रिचर्ड मैसन को अपनी इस बीमारी के बारे में पता चला तो उन्हें बेहद हैरानी हुई.
इसके बाद उन्होंने डॉक्टरों से एक बार फिर जांच करने को कहा.
इस टेस्ट रिपोर्ट के नतीजों ने रिचर्ड की ज़िंदगी बदलकर रख दी. उन्होंने अपनी पत्नी पर केस दर्ज कराया जिसके बाद उनकी पत्नी को ढाई लाख पाउंड देने का आदेश मिला है, लेकिन इस क़ानूनी मामले में उन्हें इन बच्चों के असली पिता की पहचान छिपाने की छूट दी गई है.
लेकिन मैसन के लिए ये सब कितना दुखदाई था, पढ़िए उनके ही शब्दों में.
पैरों तले ज़मीन खिसक गई
जब मैंने अपनी टेस्ट रिपोर्ट में लिखी बातें पढ़ीं तो ऐसा लगा कि जैसे मेरे पैरों तले ज़मीन खिसक गई हो.
जो भी पुरुष इस बीमारी ‘सिस्टिक फिब्रोसिस’ से पीड़ित होते हैं वो बाप नहीं बन सकते.
जब मुझे इस बारे में पता चला तो मेरे मुंह से निकला- ‘हे भगवान, मैं तो तीन बच्चों का बाप हूं, आपकी जांच में ज़रूर ही कोई गड़बड़ हुई है.’
इसके जवाब में डॉक्टर ने कहा, ‘हमारी जांच ठीक है और आप इस बीमारी से ग्रसित हैं.’
पत्नी से आमना-सामना
अगर कम शब्दों में कहें तो इसके बाद मुझे अपनी पत्नी से बात करनी थी.
एक लंबे समय तक डॉक्टर के बोले हुए शब्द गूंजते रहे. इस बात ने मुझे काफ़ी धक्का पहुंचाया. मुझे समझ नहीं आ रहा था कि आख़िर क्या हुआ है, मैंने क्या किया है…
मेरे दिमाग़ में बस एक ही चीज़ चल रही थी कि आख़िर मेरे तीन बच्चों का बाप कौन है?
ऐसी किसी चीज़ का सामना करने के बाद आपको किसी भी चीज़ पर भरोसा नहीं रह जाता है.
लेकिन मैं बस ये सोच रहा था कि किसी तरह मैं ये पता लगाऊं कि मेरे बच्चों का असली पिता कौन है ताकि उनकी मुलाक़ात उस शख़्स से हो सके.
मुझे लग रहा था कि कहीं मेरा कोई दोस्त इन बच्चों का पिता तो नहीं या कोई ऐसा शख़्स जो कि मेरे बहुत करीब हो.
कुछ अनसुलझे सवाल
मैं जानना चाहता था कि जब मैं अपने बच्चों को फुटबॉल या रग्बी खेलते हुए देखता था तो क्या वह शख़्स वहां मौजूद होता था.
क्या वह शख़्स कभी मेरे बच्चों की पेरेंट्स टीचर मीटिंग में मौजूद था?
मुझे सच में नहीं पता है कि आख़िर वह शख़्स कौन है.
आपको पता है, जब आपकी ज़िंदगी में ऐसा कोई रहस्य पैदा हो जाता है तो ये आपकी ज़िंदगी को काफ़ी प्रभावित करता है.
स्वाभाविक है कि हर व्यक्ति ऐसी जानकारी चाहेगा.
बीबीसी ने इस बारे में उनकी पत्नी से बात करने की कोशिश की, लेकिन उनकी ओर से अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं मिल सकी है.(reort courtsey-BBC)

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.