तेज प्रताप की शादी रहेगी बरकरार, वापस ले सकते है तलाक का फैसला

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े पुत्र तेजप्रताप पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी वापस ले सकते हैं. ब्रज में उनके सहयोगी और पूर्व जेल विजिटर लक्ष्मण प्रसाद शर्मा की मानें तो तेजप्रताप वचन देकर गए हैं कि वह अपने सारे विवाद सुलझा लेंगे. इसके लिए वह सबसे पहले तलाक की अर्जी वापस लेंगे.

विदित हो कि तलाक की अर्जी पर पटना में 30 नवंबर को सुनवाई होनी है. बकौल लक्ष्मण प्रसाद, तेजप्रताप ने उनसे कहा कि वह राजनीति में फिर से सक्रिय होंगे. इस बीच, तेजप्रताप बुधवार शाम को ब्रज से दिल्ली के लिए रवाना हो गए. वहां से गुरुवार को पटना के लिए उड़ान भरेंगे.

वह अपने आधा दर्जन साथियों के साथ दोपहर बाद शेरगढ़ स्थित विहार वन पहुंचे. यहां वन बिहारी और राधारानी के चरणों में अर्चना की. इसके बाद वह यमुना एक्सप्रेस वे से दिल्ली के लिए रवाना हो गए. ब्रज की एक लोक कहावत है- ‘जो धंसे सौ फंसे.’ तेजप्रताप ब्रज के ऐसे ही प्रेम में पड़ गए हैं. लालू यादव जब रेल मंत्री थे, तब तेजप्रताप पहली बार उनके साथ ब्रज आए थे. तब से समय-समय पर उनका ब्रज में आना जाना बना रहा.

पत्नी से संबंधों में खटास आने के चलते दीपावली से एक दिन पहले वह पटना से वृंदावन पहुंच गए. यहां वह एक गेस्ट हाउस में डेरा डाले रहे. सुर्खियों से दूर रहने के लिए कुछ दिन वह गौड़ीय आश्रम में भी रहे. ब्रज में प्रवास के दौरान तेजप्रताप ने गोवर्धन में परिक्रमा की. कामां में चारों धाम के दर्शन किए. यमुना में नौका विहार के साथ वह कई धार्मिक स्थलों पर भी गए. अब ब्रज से जाने का कारण पटना में घरेलू विवाद की सुनवाई की तारीख होना बताया जा रहा है. बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव बुधवार को बिहारवन स्थित कुंड के दर्शन करने पहुंचे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.