दोनों देशों में तनाव कम, इमरान और भारत की सकारात्मक पहल

अगर पहले ही डोजियर दे देते तो शायद हालात इतने नहीं बिगड़ते. खैर देर आयद दुरुस्त आयद अब भारत सरकार ने शाति की खातिर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की निष्पक्ष जांच की पेशकश मान ली है. भारत ने अब इमरान खान को पुलवामा के मामले को लेकर एक डोजियर सौंपा है.

MEA के एक बयान में कहा गया है कि इस डोजियर में ‘पुलवामा आतंकी हमले में JeM और पाकिस्तान में JeM आतंकी शिविरों और उसके नेतृत्व के मौजूदगी की जानकारी है.’

बयान में कहा गया है कि ‘पाकिस्तान के कार्यवाहक उच्चायुक्त को यह अवगत कराया गया कि भारत को उम्मीद है कि पाकिस्तान अपने नियंत्रण वाले क्षेत्रों में पल रहे आतंकवाद के खिलाफ तत्काल और उचित कार्रवाई करेगा.’

ये भी पढ़ें :  छोटे से प्रदर्शन के बाद ही 'आप' सरकार ने वापस ले लिया फैसला, इसे कहते हैं लोकतंत्र,

इससे पहसे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार को पत्रकारों से बात की उन्होंने कहा कि पुलवामा हमले में भारत के लोगों की जान गई है. मैं वहां के लोगों के गुस्से के बारे में समझ सकता हूं.  अगर भारत किसी भी तरह की जांच चाहता है तो हम उसके लिए तैयार हैं.

पाक प्रधानमंत्री ने कहा- कि कल से जैसी परिस्थितियां बन रही हैं, उसके बारे में मैं आपको बताना चाहता हूं. पुलवामा हमले में कई लोगों की जान गई है. मैं भी कई अस्पतालों में ऐसे लोगों से मिला हूं. हमने हिंदुस्तान को सीधा प्रस्ताव दिया कि जैसी भी जांच आप चाहते हैं, हम उसके लिए तैयार हैं. अगर कोई भी पाकिस्तानी इसमें शामिल है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

ये भी पढ़ें :  फोर्ब्स की अमीरों की लिस्ट में था पीएनबी घोटाले का आरोपी नीरव मोदी , सारे चैनलों की कीमत के बराबर घोटाला किया

इमरान ने कहा, ”किसी के मुल्क में किसी को कार्रवाई की इजाजत नहीं होती है. हिंदुस्तान में चुनाव हैं, मुझे लग रहा था कि वो कुछ करेंगे. जब सुबह एक्शन भारत ने लिया. इसके बाद आर्मी चीफ और एयर चीफ से बातचीत की. हमने सुबह एक्शन इसलिए नहीं लिया, क्योंकि हमें तब तक कुछ पुख्ता नहीं पता था. आज हमने एक्शन लिया, हम यह बताना चाहते थे कि हम भी आपके मुल्क में कार्रवाई कर सकते हैं.

ये भी पढ़ें :  माल्या के खिलाफ सबूतों को लटका रही है सरकार, लंदन कोर्ट में जज का खुलासा

खान ने कहा, ”दो हिंदुस्तानी विमानों को मार गिराया, उनके पायलट हमारी गिरफ्त में हैं. अब हम यहां से कहां जा रहे हैं, यहां अक्ल इस्तेमाल करने की जरूरत है. जितनी भी जंगें हुई हैं बड़ी दुनिया में उन्हें कोई समझ नहीं पाया कि ये इतनी बड़ी हो जाएंगी.’ इमरान ने कहा था कि अगर जंग होती है तो न तो मैं रोक पाऊंगा न मोदी.

Leave a Reply