अनलॉक-2 में गाज़ियाबाद और नोएडा के लिए अलग नियम, झेलनी होगी सख्ती

अनलॉक-2 को लेकर नई गाइडलाइन्स में नोएडा और गाजियाबाद के लिए अलग नियम होंगे.  मंगलवार देर शाम को शासन ने गाइडलाइन जारी कर दी. गाइडलाइन्स में यहां के जिला अधिकारियों की पॉवर बढ़ा दी गई है. यहां के जिलाधिकारियों को छूट दी गई है कि वह आवागमन के लिए प्रतिबंध लगा सकते हैं. इस गाइडलाइन में भी दिल्ली बॉर्डर को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं की गई है.

उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से मुख्य सचिव ने यह गाइडलाइन जारी की गई है. जिसमें रात्रि कर्फ्यूके संबंध मे कहा गया है कि मेरठ मंडल को छोड़कर प्रदेश में सभी जगह रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक कर्फ्यूरहेगा. जबकि मेरठ मंडल के जिलों में 10 जुलाई तक यह कर्फ्यूरात 8 बजे से लेकर सुबह 6 बजे तक रहेगा. रात्रि कर्फ्यूमें औद्योगिक इकाइयों में मल्टीपल शिफ्ट में काम करने वाले, बस, ट्रेन और हवाई जहाज से यात्रा करने वाले लोगों को छूट दी गई है.

ये भी पढ़ें :  बच्चों से भरी स्कूल बस पलटी, सवार थे 35 बच्चे, कई टीचर भी

इसके अलावा सभी राज्यों की सीमाओं से भी प्रतिबंध हटा दिया गया है. लेकिन एनसीआर में स्थित गौतमबुद्धनगर और गाजियाबाद के जिलाधिकारी, पुलिस प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के जनपदीय अधिकारियों से विचार-विमर्श कर अलग से स्थानीय स्तर पर प्रतिबंध लगा सकते हैं. जिससे स्पष्ट है कि दिल्ली बॉर्डर पर अभी राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं है, क्योकि स्थानीय स्तर पर अधिकारियों का मानना है कि दिल्ली की वजह से जिले में कोरोना का संक्रमण बढ़ा है और यदि वह बॉर्डर पर छूट देते हैं तो स्थिति और बिगड़ सकती है.

ये भी पढ़ें :  गोलीवारी पर चश्मदीद पत्रकार ने शेयर किए वीडियो, ये फायरिंग से ज्यादा नरसंहार लगता है

अनलॉक 2 में उद्योगों में रात्रि शिफ्ट में काम करने वाले लोगों को रात में आने-जाने की छूट दी गई है. जिससे वह रात्रि कर्फ्यूके दौरान भी आ जा सकेंगे. इसके बाद अब यहां की औद्योगिक इकाइयों में अब रात्रि में भी काम हो सकेगा. जिसकी मांग वह लंबे समय से कर रहे थे.