ज्योतिरादित्य सिंधिया पिता की तरह बना सकते हैं अलग पार्टी

खबर सब तक पहुंचाएं

महाराष्ट्र के बाद एक और राज्य में राजनीतिक उथल-पुथल मच सकती है. ऐसा इसलिए कहा जा रहा है कि क्योंकि हाल ही में मध्य प्रदेश कांग्रेस के नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपनी प्रोफ़ाइल (ट्विटर) से कांग्रेस हटा लिया और उसकी जगह समाजसेवी लिख दिया. इसके बाद सियासी बयानबाजी का दौर शुरू हो गया. कथित रूप से पार्टी से लंबे समय से नाराज चल रहे सिंधिया अपनी नई पार्टी बना सकते हैं. यह दावा उनके ही समर्थक विधायक सुरेश राठखेड़ा ने किया है.

ये भी पढ़ें :  कांग्रेस को दबाव लेने के लिए एक चुके हुए कारतूस की रीफिलिंग शुरू

शिवपुरी की पोहरी विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक सुरेश रथखेड़ा ने सिंधिया को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि सबसे पहले मुझे नहीं लगता कि श्रीमंत महाराज साहब (ज्योतिरादित्य सिंधिया) कांग्रेस छोड़ देंगे. मुझे यह भी नहीं लगता कि वह कभी दूसरी पार्टी में शामिल होंगे. हां वह अपनी खुद की नई पार्टी शुरू कर सकते हैं क्योंकि मध्य प्रदेश में उनकी ताकत है.

ये भी पढ़ें :  कांग्रेस से सिंधिया का इस्तीफा, ये है तीन पीढ़ियों का दलबदल का इतिहास

कांग्रेस के पोहरी से विधायक सुरेश रथखेड़ा ने आगे कहा कि अगर श्रीमंत महाराज साहब (सिंधिया) ऐसा करते हैं तो मैं उनका अनुसरण करने वाला पहला व्यक्ति बनूंगा. पार्टी सर्वोच्च है, लेकिन मेरे लिए श्रीमंत महाराज साहब सबसे पहले आते हैं. मैं आज जो कुछ भी बन गया हूं, उसके लिए मैं उनका शुक्रगुजार हूं.


खबर सब तक पहुंचाएं

Leave a Reply