क्या कहता है गुजरात का सट्टा बाज़ार , मोदी आएगा या जाएगा ? ‘आजतक’ की रिपोर्ट

देश में लोकसभा चुनाव के नतीजों को आने में अब बस कुछ ही दिन बचे हैं और गुजरात में सट्टा बाजार काफी जोर पकड़ रहा है. गुजरात में पांच शहरों में बड़े पैमाने पर सट्टा खेला जाता है. इनमें ऊंझा, महेसाणा, अहमदाबाद, राजकोट और सूरत शामिल हैं.

इस बाजार का भाव कहता है कि पीएम मोदी का भाव काफी ज्यादा है जबकि राहुल का कम, सट्टा बाजार में नरेंद्र मोदी के लिए 14 पैसा चल रहा है. जबकि राहुल गांधी के पीएम बनने को लेकर 5 रुपये का रेट चल रहा है. सट्टा बाजार में जिस का रेट कम होता है उसके जीतने की संभावना उतनी ही ज्यादा होती है.

बता दें कि दिल्ली में प्रेस कॉन्फ्रेंस में पीएम नरेंद्र मोदी ने पिछली चुनाव के नतीजों को याद करते हुए कहा था कि सभी तरीके के सट्टा बाजार को धता बताते हुए चुनाव के नतीजे आए थे. जबकि बाजार में दो तीन दिन पहले से ही सट्टा लगाने का काम शुरू हो गया था.

गुजरात में सट्टा बाजार

सट्टा बाजार में गुजरात को लेकर अलग अलग रेट चल रहे हैं.  21 सीटों के लिए 27 पैसे,  22 सीटों के लिए 60 पैसे का रेट चल रहा है तो वहीं 23 सीटों के लिए 1  पैसे का रेट चल रहा है. इसके अलावा 24 सीटों के लिए  एक रुपया 80 पैसे के सामने 2 रुपये 20 पैसे का रेट चल रहा है, और गुजरात की 26 सीटों के लिए 7 पैसे के सामने 8.50 रुपये का रेट चल रहा है.

गुजरात में एक अंदाज के मुताबिक लोकसभा चुनाव को लेकर अब तक 200 करोड़ से भी ज्यादा सट्टा लग चुका है. हालांकि 2014 के चुनाव के सामने यह काफी कम है. एक बुकी ने नाम न बताने की शर्त पर बताया कि गुजरात में 2014 के लोकसभा चुनाव के वक्त 500 करोड़ रुपयों का सट्टा खेला गया था. हालांकि एक एक उम्मीदवार के भी अलग अलग रेट चलते हैं. (साभार आजतक. इन)

https://aajtak.intoday.in/story/lok-sabha-election-2019-pm-modi-bjp-rahul-gandhi-congress-bsp-sp-atrc-1-1084796.html