एनडी तिवारी के बेेटे को किया गया कत्ल, मीडिया को बताना चाहता था अहम बात

एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर की हत्या हुई थी . उनकी मौत प्राकृतिक नहीं थी और उन्हें किसी ने मुंह दबाकर मारा था. दिल्ली पुलिस ने इस मामले में हत्या क केस दर्ज किया है.

इसके साथ ही फॉरेंसिक और क्राइम ब्रांच की टीमें उनके आवास पर पहुंच गई हैं. क्राइम ब्रांच ने घर पर मौजूद लोगों से सघन पूछताछ भी शुरू कर दी है.

गौरतलब है कि स्वर्गीय एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी का मंगलवार शाम निधन हो गया था. रोहित कोटद्वार से वोट डालकर सोमवार रात 11 बजे डिफेंस कॉलोनी स्थित अपने घर लौटे थे.

इसके बाद उन्होंने खाना खाया और करीब 11:30 बजे वह अपने रूम में सो गए. मंगलवार शाम 4 बजे नौकर कमरे में गया तो उसने देखा कि रोहित की नाक से खून निकला हुआ था. इसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया था.

उधर जांच में पता चला है कि 16 अप्रैल को दिल्ली स्थित उनके आवास पर रोहित की अचानक मौत हो गई थी. मौत से पहले उन्होंने कई पत्रकारों को फोन किया था. हालांकि पत्रकार रोहित का फोन रिसीव नहीं कर सके.

वहीं उन्होंने अपनी भाभी कुमकुम को भी 16 अप्रैल को सुबह सवा चार बजे फोन किया था. लेकिन वह भी किसी कारण से फोन नहीं उठा पाईं.

इससे यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि रोहित मौत से पहले कोई बात बताना चाह रहे थे. उज्ज्वला के भतीजे राजीव उर्फ पप्पू भईया और उनकी पत्नी कुमकुम दिल्ली में रोहित शेखर के साथ रहते हैं.