दिल्ली वालों के लिए एक बडी खुशखबरी, 16 अक्टूबर को दिल्ली को रानीझांसी फ्लाईओवर की सौगात

दिल्ली में लटके रहने का रिकॉर्ड बनाने के बाद दिल्ली का रानी झांसी रो़ड फ्लाईओवर अब तैयार हो गया है.  जिस पुल को 22 महीने में बनकर 2010 में तैयार हो जाना चाहिए था वो अब काम शुरू होने के दस साल बाद आखिर तैयार हो ही गया.

सिर्फ डेडलाईन ही आगे नही बढी प्रोजेक्ट की लागत भी चार गुना बढ गई है.अब इस फ़्लाइओवर की शुरू होने में बस कुछ दिन ही शेष रह गए हैं . 16 अक्टूबर को ये फ्लाईओवर दिल्ली वालों को मिल जाएगा.

एक दर्जन से ज़्यादा सरकारी एजेंसियों के बीच आपस में तालमेल ना होने की वजह से यह फ़्लाइओवर लगातार खींचतान चला गया. दिल्ली जल बोर्ड दिल्ली पावर पीडब्लूडी MCD जल बोर्ड रेलवे की जैसी एजेंसियां आपस में ही कोर्डिनेट नहीं कर पा रही थी तो दूसरी ओर लोगों की घर और मंदिर और मस्जिद भी इस फ़्लाइओवर के बीच में पड रहे थे .

1.7 किलोमीटर लंबा रानी झांसी फ्लाईओवर पूसा रोड अपर रिज और रोहतक रोड को फिल्मिस्तान सिनेमा, डीसीएम चौक, आजाद मार्केट और रोशनआरा रोड के जरिए ISBT कश्मीरी गेट से जोड़ेगा. इस फ्लाईओवर के खुल जाने से कश्मीरी गेट, करोल बाग, मोरी गेट, कमला नगर, सदर बाजार, पहाड़गंज और आजाद मार्केट में लगने वाले भारी ट्रैफिक और जाम से कुछ राहत मिलेगी.

बीते दिनो एमसीडी अधिकारियों ने इस फ्लाईओवर का निरीक्षण किया और इसको पूरा बताया .अधिकारियों ने कहा कि बस अब इसका उद्घाटन का इंतज़ार है. स्थानीय पार्षद जय प्रकाश भी अधिकारियों के साथ मौजूद थे उन्होंने बताया कि इस फ़्लाइओवर के शुरू होने से पुरानी दिल्ली वालों का सपना पूरा हो जाएगा .घंटो लगने वाले जाम से मुक्ति मिलेगी .

शुरू में इस फ़्लाइओवर का निर्माण महज़ 175 करोड़ में तय किया गया था लेकिन समय बीतने के साथ ही लोगों को देने वाले मुआवज़े की दर भी बढ़ती गई यही वजह है कि अब जाकर इस फ्लाईओवर कट कुल ख़र्चा 800 करोड.पहुँच गया है .

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.