पीएम मोदी की अशालीन बातों पर राहुल का शालीन जवाब

पीएम मोदी जिस तरह से उग्र बयान देते हैं उतनी ही शालीनता से जवाब देकर राहुल गांधी बार बार पीएम मोदी को नीचा दिखा रहे हैं. मोदी जितनी बदजुबानी करते हैं राहुल गांधी उतना ही शालीनता से उत्तर देते हैं. मणिशंकर अय्यर को पीएम मोदी को नीच कहने से रोककर राहुल ने जो मिसाल पेश की थी वो आजतक उनके अंदाज़ में कायम है. चुनाव जहां खत्म होने वाला है और आखिरी दौर में है वहीं नरेंद्र मोदी ने राहुल गांधी को ताना मारते हुए कहा था आपके पिता को उनके दरबारियों ने मिस्टर क्लीन कहा था थे लेकिन भ्रष्टाचारी नंबर वन की मौत मरे।

राजीव गांधी के बारे में यह घटिया बात अगर गिरिराज सिंह, साध्वी प्रज्ञा या साक्षी महाराज जैसा बीजेपी उम्मीदवार कहता तो लगता इसने अपने स्तर की ही बात की है लेकिन मोदी ने अपनी बौखलाहट में जो कहा वह प्रधानमंत्री पद पर बैठे व्यक्ति की गरिमा से बहुत गिरी हुई बात थी।लेकिन राहुल गांधी ने इसका जो शालीन जवाब दिया वो मोदी को क्लीन बोल्ड करने के लिए काफी है.

जिसपर रविवार के प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा ने पीएम मोदी पर जमकर वार किया. राहुल ने ट्वीट करते हुए लिखा मोदी जी, लड़ाई खत्म हो गई है. आपके कर्मों का फल आपका इंतजार कर रहा है. उन्होंने आगे लिखा कि खुद के बारे में अपनी सोच को मेरे पिता पर थोपना भी आपको नहीं बचा पाएगा. राहुल ने लिखा की मेरा बहुत सारा प्यार.

वहीं, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी ट्वीट करते हुए कहा कि शहीदों के नाम पर वोट मांगकर उनकी शहादत को अपमानित करने वाले प्रधानमंत्री ने कल अपनी बेलगाम सनक में एक नेक और पाक इंसान की शहादत का निरादर किया. इसका जवाब अमेठी की जनता देगी, जिनके लिए राजीव गांधी ने अपनी जान दी. हां मोदीजी ‘यह देश धोखेबाज़ी को कभी माफ नहीं करता’.

गौरतलब है कि उत्‍तर प्रदेश के प्रतापगढ़ में शनिवार को चुनावी रैली में पीएम नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी का जिक्र करते हुए कहा था कि आपके (राहुल गांधी) पिता को उनके दरबारी मिस्टर क्लीन कहा करते थे, लेकिन उनके जीवन का अंत भ्रष्टाचारी नंबर-1 के रूप में हुआ. नामदार ये अंहकार आपको खा जाएगा. ये देश गलतियां माफ करता है, मगर धोखेबाजी को माफ नहीं करता.

बता दें कि सैम पित्रोदा ने भी राजीव गांधी का जिक्र किए जाने पर पीएम मोदी की आलोचना की थी. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने राजीव गांधी के बारे में जो कहा उससे हमारी भावनाओं को ठेस पहुंची है.