राहुल का बड़ा हमला, गुरू को जूता मारकर मोदी ने नीचे उतारा

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि ये विचार धारा की लड़ाई है. जहां भी जाते हैं पीएम वहां किसी ना किसी की बुराई करते हैं. मोदी जी के गुरु कौन हैं. आडवाणी जी. शिष्य गुरु के सामने हाथ भी नहीं जोड़ता. स्टेज से उठा कर फेंक दिया आडवाणी जी को. जूता मार के आडवाणी जी को उतारा स्टेज से और हिन्दू धर्म की बात करते हैं. हिन्दू धर्म में कहां लिखा है कि लोगों को मारना चाहिए.

शुक्रवार को राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी ने बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी का अपमान किया है और अपने गुरु का अपमान करना हिंदू संस्कृति नहीं है. हिंदू में कहां लिखा है कि गुरू का अपमान करना चाहिए. बता दें, गांधीनगर सीट से टिकट कटने के बाद गुरुवार को बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने अपने ब्लॉग में कहा था कि बीजेपी ने अपने राजनीतिक विरोधियों को कभी राष्ट्र विरोधी नहीं माना.

इस ब्लॉग के सामने आने के बाद से ही विपक्ष पीएम मोदी पर हमलावर है. राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी हमें हिंदू धर्म की सीख न दें. उन्होंने (मोदी) अपने गुरु का अपमान किया. राहुल ने कहा कि 2019 का चुनाव विचारधाराओं की लड़ाई है और कांग्रेस की विचारधारा भाईचारा, प्रेम और सौहार्द्र मोदी के नफरत, क्रोध और विभाजनकारी विचारधारा पर जीत हासिल करेगी.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि अगर उनकी पार्टी सत्ता में आई तो गरीब परिवारों को न्यूनतम आय के तौर पर हर साल 72,000 रुपये दिए जाएंगे, जिससे करीब 25 करोड़ लोगों को फायदा होगा. इस कदम को उन्होंने गरीबी पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ बताया है.

राहुल गांधी कहा ने कहा कि सभी पक्षकारों से विचार विमर्श के बाद घोषणापत्र तैयार किया गया है. न्याय योजना को लागू करने के लिए मध्यम वर्ग पर आयकर नहीं लगाया जाएगा और आयकर को नहीं बढ़ाया जाएगा. अगर उनकी पार्टी सत्ता में आई तो इस योजना में हर साल गरीब लोगों के बैंक खातों में 72,000 रुपये जमा कराए जाएंगे.

राफेल सौदे को लेकर उद्योगपति अनिल अंबानी पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि कागज का जहाज भी नहीं बना सकने वाले व्यक्ति ने सबसे बड़ा रक्षा अनुबंध हासिल कर लिया और उसकी जेब में सीधे 30,000 करोड़ रूपये जा रहे हैं. मनरेगा का पूरा बजट एक ही व्यक्ति को दे दिया गया.