पाकिस्तान ने LOC पर सेना लगाई, चीन के इशारे बना है बड़ा प्लान

चीने की सरहदों के साथ साथ अब पाकिस्तान की एलओसी पर भी सैनिक जमाव होने लगाहै. माना जा रहा है कि चीन पाकिस्तान के साथ दोस्ती दिखाकर भारत को धमकी भरे संकेत दे रहा है कि वो भारत को दो तरफ से घर सकता है.

इकनॉमिक टाइम्स में छपी मन्नू पब्बी की रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान ने गिलगित-बाल्टिस्तान में एलओसी के नजदीक सेना की दो डिविजनों को तैनात किया है. पाकिस्तानी सेना के एलओसी के नजदीक लगभग 20 हजार सैनिकों की तैनाती को भारत के ऊपर दबाव बनाने की कोशिश के रूप में देखा जा रहा है. आशंका जताई जा रही है कि पाकिस्तान ऐसी हरकतें चीन के इशारों पर कर रहा है.

ये भी पढ़ें :  मोहम्मद शमी और हसीना के झगड़े में ये तीसरा कूदा, खोले कई राज़

चीनी अधिकारी जम्मू-कश्मीर में हिंसा भड़काने के लिए चरमपंथी समूह अल बदर से बातचीत कर रहे हैं, “जिससे से साफ संकेत मिलते हैं कि सीमा पर चीन और पाकिस्तान मिले हुए हैं. इसी कड़ी में पाक ने कश्मीर के पश्चिमी सीमा पर तनाव बढ़ाने के लिए 20 हजार सैनिकों को तैनात किया है.

पूर्वी लद्दाख में चीन लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर लगातार नापाक हरकतें कर रहा है और इसमें उसे अपने ‘सदाबहार दोस्त’ पाकिस्तान का भी पूरा साथ मिल रहा है. यही वजह है कि भारत को चीन के साथ-साथ पाकिस्तान की हरकतों पर भी नजर रखनी पड़ रही है. सूत्रों के मुताबिक पिछले सप्ताह चीन की एयरफोर्स पी.एल.ए.ए.एफ का एक रिफ्यूलर एयरक्राफ्ट पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर के स्कर्दू में उतरा था. इसके बाद से भारत पीओके में स्थित पाकिस्तानी एयरफोर्स के ठिकानों पर बराबर नजर रख रहा है.

ये भी पढ़ें :  सुबह 6 बजे सरकारी शौचालयों के चक्कर लगाता है अफसर, वीडियो बनाते हुए दिखा, केजरीवाल का डर

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, इस बार पाकिस्तान ने जितने सैनिकों को तैनात किया है वह बालाकोट एयर स्ट्राइक के दौरान की गई तैनाती से कहीं ज्यादा है. वहीं, पाकिस्तान के एयर डिफेंस रडार भी पूरे क्षेत्र पर 24 घंटे नजर बनाए हुए हैं. पाकिस्तान और चीन सीमा पर सैनिकों की तैनाती और आतंकवादियों को उकसाने के प्रयासों से भारत को दो फ्रंट और घाटी में आतंकवाद से लड़ना पड़ेगा.