अब पजेशन में देरी पर जेल जाएंगे बिल्डर, सात के खिलाफ FIR

गाजियाबाद : अब प्रशासन ने बिल्डरों को सलाखों के पीछे डालने का फैसला किया है. अब बिल्डरों को 31 मई तक 11 हजार से ज्यादा खरीदारों को फ्लैट का पजेशन देना होगा. ऐसा नहीं करने वाले बिल्डरों के खिलाफ जीडीए मुकदमा दर्ज कराएगा. हालांकि जीडीए अभी तक आठ हजार से ज्यादा खरीदारों को फ्लैट पर कब्जा दिला चुका है.

बिल्डर और खरीदारों के बीच विवाद खत्म करने के लिए प्रदेश सरकार ने पिछले साल मंत्री समूह का गठन किया था. अगस्त में मंत्री समूह की बिल्डरों और खरीदारों के साथ बैठक भी हुई थी. बैठक के बाद मंत्री समूह ने बिल्डरों को निर्देश दिया था कि वह 31 दिसंबर तक खरीदारों को फ्लैट मुहैया कराएं.

ये भी पढ़ें :  नोएडा, गाज़ियाबाद में सीएनजी के दाम में बड़ी कटौती, अब इतना कम होगा रेट

वहीं, बिल्डर खरीदारों को फ्लैट दे रहे हैं या नहीं, इसकी समीक्षा जीडीए अधिकारियों सौंपी गई थी. जीडीए फ्लैट देने के लिए लगातार बिल्डरों पर दबाव बना रहा है. जीडीए ने अब तक 8 हजार 662 खरीदारों को फ्लैट दिला दिए हैं, बाकी बचे 11 हजार 303 खरीदारों को 31 मई तक फ्लैटों पर कब्जा दिलाया जाएगा.

ये भी पढ़ें :  लेडी टीचर के साथ लिविंग में थी बच्ची, दोनों ने मिलकर मां को मार दिया

जीडीए सचिव संतोष कुमार राय ने बताया कि 25 बिल्डरों को हिदायत दी गई है कि वह 31 मई तक खरीदारों को फ्लैट मुहैया कराएं. ऐसा नहीं करने वाले बिल्डरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.

जीडीए के अधिकारियों का कहना है कि विभिन्न जोन में 25 बिल्डरों के करीब 4175 फ्लैटों पर निर्माण कार्य चल रहा है.

ये भी पढ़ें :  आज फिर आएगी 37 बिल्डरों की लिस्ट, ऑडिट फंसे हैं नोएडा और ग्रेनो के बिल्डर

सात बिल्डरों के खिलाफ हो चुके हैं मुकदमे
तय समय पर फ्लैट नहीं देने वाले सात बिल्डरों के खिलाफ जीडीए मुकदमा दर्ज करा चुका है.

Spread the love

Leave a Reply