नई दिल्ली स्टेशन में घुसने पर देनी होगी मोटी रकम. वीआईपी पार्किंग से भी ऊपर है रेट

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर स्मार्ट पार्किंग एक्सेस कन्ट्रोल सिस्टम लागू हो गया है. नई व्यवस्था के तहत स्टेशन पर यात्रियों को छोड़ने के लिये आने वाले लोगों के निजी वाहनों के लिये समय सीमा निर्धारित की गई है. अगर आप रेल्वे स्टेशन के अंदर आधे घंटे कार लेकर जाते हैं तो पूरे 200 रुपये चुकाने होंगे. दिल्ली में सफल होने पर ये व्यवस्था देश क अन्य स्टेशनों पर भी लागू की जा सकती है.

रेल्वे स्टेशन के अंदर घुसते ही मीटर शुरू हो जाएगा. पहले 8 मिनट फ्री हैं. 9 मिनट होते ही सीधे 50 रुपये देने होंगे अगर आप 30 मिनट से ज्यादा अंदर रहते हैं तो ये रकम 200 रुपये होगी.

रेल्वे के मुताबिक शुरूआती 8 मिनट के लिये निजी वाहनों की पार्किंग फ्री होगी. 8 से पन्द्रह मिनट तक 50 रुपये पार्किंग चार्ज देना होगा लेकिन अगर 15 मिनट से ज्यादा गाड़ी पार्क रही तो जुर्माना वसूला जाएगा. 15 से 30 मिनट पार्किंग के लिये 200 रुपये जुर्माना भरना होगा.

नए पार्किंग सिस्टम से फायदा ये होगा कि यात्रियों को स्टेशन छोड़ने आने वाले लोग जुर्माने के डर से पार्किंग जल्दी खाली कर देंगे और जाम नहीं लगेगा. साथ ही लोगों को आसानी से पार्किंग मिल पाएगा.

स्मार्ट पार्किंग एक्सेस कन्ट्रोल सिस्टम से निजी वाहन चालक जहां काफी खुश हैं वहीं ओला उबर जैसे कमर्शियल कैब चलाने वालों में नाराज़गी है.

नए पार्किंग सिस्टम के मुताबिक जो कमर्शियल कैब यात्रियों को छोड़ने रेलवे स्टेशन में दाखिलहोगी उसे शुरूआती 8 मिनट के लिये 30 रुपये देने होंगे. 15 मिनट तक रुकने पर 50 रुपये देना होगा और 15 मिनट से ज्यादा रुकने पर 200 रुपये जुर्माना भरना होगा.

नई पार्किंग व्यवस्था में सुरक्षा को लेकर भी खास खयाल रखा गया है. इन और आउट गेट पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. गेट से गुजरने वाली गाड़ियों और उनमें बैठे यात्रियों का पूरा विवरण एक महीने तक सुरक्षित रखा जाएगा.