आपदा में अवसर- सारे रिकॉर्ड तोड़, मुकेश अंबानी की संपत्ति वॉरेन बफेट से भी ज्यादा दौलत

2020 जहां पूरी दुनिया के लिए तबाही लाया है और लोगों के भूखे मरने की नौबत आ गई है ऐसे  में मुकेश अंबानी का कारोबार और उछल रहा है. आपदा को अंबानी के लिए अवसर कहा जाए तो कुछ गलत नहीं होगा. कमाई का आलम ये है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन मुकेश अंबानी अब अमेरिका के उद्योगपति और दानकर्ता वॉरेन बफे को पीछे छोड़ दुनिया के आठवें सबसे रिच शख्स बन गए हैं.

मौजूदा समय में मुकेश अंबानी की संपत्ति 68.3 अरब डॉलर (करीब 5 लाख 13 हजार करोड़ रुपए) आंकी गई है, जो कि वॉरेन बफे की 67.9 अरब डॉलर (5.10 लाख करोड़ रुपए) की संपत्ति से ज्यादा है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मुकेश अंबानी की कंपनी के शेयर्स इस साल मार्च से लेकर अब तक दोगुने कीमत के हो गए हैं. खासकर फेसबुक और सिल्वर लेक कंपनी के 15 अरब डॉलर (करीब 1 लाख 13 हजार करोड़ रुपए) के निवेश के बाद. इसी हफ्ते ब्रिटेन की तेल कंपनी बीपी पीएलसी ने रिलायंस के तेल से जुड़े बिजनेस में 1 अरब डॉलर (करीब 75 अरब रुपए) का निवेश किया है.

ये भी पढ़ें :  अटल और मोदी दोनों सरकारें विकास में थीं पीछे, नए आंकड़ों से खुलासा

गौरतलब है कि मुकेश अंबानी इस वक्त दुनिया के 10 सबसे रिच शख्सियतों में शामिल एशिया के इकलौते बिजनेस टायकून हैं. इस लिस्ट में उन्हें पिछले महीने ही जगह मिली थी. हालांकि, वॉरेन बफे इस लिस्ट में लगातार नीचे आए हैं. उन्होंने कुछ समय पहले ही अपनी संपत्ति में 2.9 अरब डॉलर दान में दे दिए थे. 89 साल के बफे की रैंकिंग 2006 में बर्कशायर हैथवे कंपनी के 37 अरब डॉलर के शेयर दान करने के बाद से ही गिरती रही है.

ये भी पढ़ें :  खालिस्तानी अटवाल को वीज़ा देकर फंसे राजनाथ, सफाई पर सफाई का दौर जारी

हाल ही के समय में उनकी कंपनी के स्टॉक्स में भी गिरावट दर्ज की गई है.

मुकेश अंबानी फिलहाल ब्लूमबर्ग के इंडेक्स में आठवें स्थान पर हैं. फिलहाल अमेजन के मालिक जेफ बेजोस दुनिया में रिच व्यक्तियों की लिस्ट में टॉप पर हैं. उनके पास कुल 189 अरब डॉलर (करीब 14 लाख करोड़ रुपए) संपत्ति है. इसके बाद दूसरे नंबर पर आते हैं बिल गेट्स जिनकी कुल संपत्ति 116 बिलियन डॉलर (8.7 लाख करोड़ रुपए) है. तीसरे नंबर पर हैं मार्क जुकरबर्ग. उनकी संपत्ति 93 बिलियन डॉलर (6.9 लाख करोड़ रुपए) है.