अंबानी के घर कार रखने के पीछे किसका हाथ? WHO IS BEHIND AMBANI EXPLOSIVE CONTROVERSY?

AMBANI ANTELIA CONTROVERSY INDICATING TOWARD MUKESH AMBANI पास 20 जिलिटीन के साथ स्कॉर्पियो खड़ा करने के मामले में गिरफ्तार किया था. मालिक मनसुख हिरन था. देवेंद्र फडणवीस ने विधानसभा में कहा कि मनसुख और सचिन वाजे एक दूसरे को जानते थे और भी कई आरोप लगाए, करीब 16 साल के सस्पेंशन के बाद जब वो पुलिस विभाग में वापस आये देश का सबसे बड़ा टीआरपी यानी कि टेलीविजन रेटिंग पॉइंट का घोटाला बाहर निकाला और कई बड़े नामों को गिरफ्तार किया. बीवी इसके बाद उन्होंने फेक फॉलोवर वाले मामले की जांच भी की, जिसमें बादशाह जैसे रैपर को भी स्टेटमेंट के लिए बुलाया. दिपका पादुकोणे का नाम भी इसमें आया उन्होंने देश का सबसे पहला स्पोर्ट कार बनाने वाले यानी कि डीसी अवनति के मालिक दिलीप छाबरिया को भी गिरफ्तार किया था. हाल ही में उनके पास अभिनेत्री कंगना और हृतिक रोशन के बीच ईमेल मामले की जांच भी आई थी.

1972 में पैदा हुए वाजे महाराष्ट्र पुलिस फोर्स में कार्यरत हैं, 63 क्रिमिनल्स का एनकाउंटर किया था. 1990 में वाजे ने महाराष्ट्र पुलिस फोर्स सब इंस्पेक्टर के तौर पर जॉइन किया था. जिन्होंने कई क्रिमिनल्स को मारा, जिनके कनेक्शन छोटा राजन और दाऊद इब्राहिम गैंग से थे. 1990 में फोर्स जॉइन करने के बाद वाजे की पहली नक्सल प्रभावित इलाका यानी कि गडचिरोली में हुई थी. अंबानी के घर कार रखने के पीछे मकसद क्या? उसके बाद 1992 में उनका ट्रांसफर ठाणे पुलिस में हुआ, जहां पर कई बड़े मामलों को सुलझाने के बाद उनको लोग जानने लगे. जिसके बाद उन्हें स्पेशल स्कॉड का इंचार्ज बनाया गया, और फिर क्रिमनल्स का इनकाउंटर शुरू हुआ. सस्पेंशन और फिर से वापसी