कोरोना वायरस ऐसे ही बढ़ा तो तबाह हो जाएंगे अंबानी और बिड़ला, अब तक इतना घाटा

कोरोना वायरसर से देश के कारोबार को बुरा झटका लगा है. नुकसान इतना ज्यादा है कि अकेले अंबानी को पूरे एक शहर की कीमत के बराबर नुकसान हो चुका है. ब्लूमबर्ग बिलियनेयर इंडेक्स के मुताबिक इसके चलते वैश्विक स्तर पर व्यापार जगत में लोगों को नुकसान का सामना करना पड़ा है. भारतीय उद्योगपति मुकेश अंबानी को अकेले इस साल $5 अरब (36,067 करोड़ रुपये) का नुकसाना का सामना करना पड़ा है.

ये भी पढ़ें :  रिलायंस जीयो गीगा फाइबर के के लिए रजिस्टर करने का तरीका, जानिए कितना आसान है रजिस्ट्रेशन

ब्लूमबर्ग बिलियनेयर इंडेक्स के मुताबाकि, आदित्य बिड़ला ग्रुप के कुमार मंगलम बिड़ला की दौलत $84.4 करोड़ (6,381 करोड़ रुपये), अजीम प्रेमजी की दौलत $86.9 करोड़ (6,273 करोड़ रुपये) और अडानी ग्रुप के गौतम अडानी की संपत्ति $49.6 करोड़ (3,580 करोड़ रुपये) कम हो गई है.

कोरोना वायरस के फैलने और उसके आर्थिक प्रभाव को देखते हुये बिकवाली निकलने से बाजार में गिरावट रही तथा निवेशकों को नुकसान हुआ. कुल छह कारोबारी सत्रों में बीएसई में सूचीबद्ध कंपनियों के बाजार पूंजीकरण में 11,76,985.88 लाख करोड़ रुपये की बड़ी गिरावट आ चुकी है.तीस शेयरों वाला बीएसई सेंसेक्स शुक्रवार को 1,448.37 अंक यानी 3.64 प्रतिशत गिरकर 38,297.29 अंक पर बंद हुआ.

ये भी पढ़ें :  इंडिया के बाज़ार में आई सबसे स्टाइलिश एसयूवी, दाम जानकर रह जाएंगे हैरान

शेयर बाजार में इस भारी गिरावट के कारण निवेशकों को 5,46,287.76 करोड़ रुपये की चपत लगी. इससे सूचीबद्ध कंपनियों का बाजार पूंजीकरण घटकर 1,46,93,797.43 करोड़ रुपये पर आ गया.गुरूवार को इन कंपनियों का बाजार पूंजीकरण 1,52,40,024.08 करोड़ रुपये था.

कारोबारियों के अनुसार लगातार विदेशी पूंजी निकासी से निवेशकों की धारणा नाजुक बनी हुई है. शेयर बाजारों के पास उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार शुद्ध आधार पर विदेशी संस्थागत निवेशकों ने 3,127.36 करोड़ रुपये के शेयर बेच.शेयर बाजारों में अस्थायी आंकड़ों के अनुसार कुल मिलाकर विदेशी निवेशक अब तक 9,389 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेच चुके हैं.बीएसई में 2,010 शेयरों में गिरावट आयी जबकि 457 में तेजी रही. वहीं 153 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ.