#VIDEO: कौन दे रहा है राहुल गांधी को जान से मारने की धमकी ?

ये राहुल गांधी को मारने की कोशिश थी या कोई ये धमकी दे रहा है कि राहुल गांधी हमेशा उसकी रेंज में है और उन्हें कभी भी उड़ाया जा सकता है. राहुल गांधी कल जब अमेठी दौरे पर थे तो ये लेजर गन लगातार उनकी कनपटी के आसपास घूम रही थी. मतलब ये कि लेजर गाइडेड गन का निशाना सीधे राहुल गांधी की कनपटी पर था.

क्या कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) बुधवार को अमेठी में रैली के दौरान किसी लेज़र गन के निशाने पर थे? कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि जब अमेठी से परचा भरने के बाद वो पत्रकारों से बात कर रहे थे तभी बहुत कम समय में कम से कम सात बार उनके सिर के आसपास लेज़र दिखती रही. दो बार तो सीधे उनकी कनपटी पर लेजर की लाइट पड़ी. कहा जा रहा है कि अमेठी में रोड शो के बाद पत्रकारों से बातचीत के दौरान राहुल गांधी के चेहरे और कनपटी पर लेजर लाइट पड़ी.इस घटना का वीडियो सामने आने के बाद हड़कंप मच गया है. कांग्रेस ने इस सिलसिले में गृह मंत्रालय को चिट्ठी लिखी है और इस घटना के बारे में अवगत कराया है. कांग्रेस ने गृह मंत्रालय को लिखी अपनी चिट्ठी में याद दिलाया है कि पार्टी अपने दो-दो प्रधानमंत्रियों इंदिरा गांधी और राजीव गांधी को ऐसे हमलों में खो चुकी है. पार्टी ने कहा है कि राहुल को एसपीजी सुरक्षा मिली हुई है, इसलिए सुरक्षा में इस लापरवाही की जांच की जाए.

<iframe width=”560″ height=”315″ src=”https://www.youtube.com/embed/zI2I7A2EH-k” frameborder=”0″ allow=”accelerometer; autoplay; encrypted-media; gyroscope; picture-in-picture” allowfullscreen></iframe>

दूसरी तरफ, गृह मंत्रालय का कहना है कि हमें राहुल गांधी की सुरक्षा में चूक से संबंधित कोई पत्र अभी तक नहीं मिला है. मामला संज्ञान में आने के बाद एसपीजी के निदेशक से रिपोर्ट मांगी गई. एसपीजी के निदेशक का कहना है कि लाइट कांग्रेस के फोटोग्राफर के मोबाइल फोन की थी. जो राहुल गांधी का वीडियो बना रहा था. आपको बता दें कि कांग्रेस (Congress) अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कल अमेठी से अपना नामांकन पत्र दाखिल किया था. अब बड़ा सवाल ये है कि ऐसा कौनसा मोबाइल है जिससे लेजर लाइट निकलती हो.