तेज़ प्रताप और ऐश्वर्या राय में समझौते के आसार बने, लालू बन हैं कड़ी

लालू यादव के सुपुत्र तेज प्रताप हो सकता है तलाक का अपना फैसला वापल ले लें. उन्होंने अपनी पत्नी ऐश्वर्या राय से तलाक लेने के लिए कोर्ट में की अर्जी दायर की थी.  अब खबर है कि लालू यादव की कोशिशों के बाद शायद तेज़ प्रताप मान जाएं.

उन्हें पटना से रांची जाना था लेकिन रास्ते में ही परिजनों का बुलावा आने पर उनका प्रोग्राम बदल गया. तेज प्रताप रिम्स अस्पताल में तीन बजे के करीब पिता लालू प्रसाद यादव से बंद कमरे में मिले. माना जा रहा है कि लालू यादव के साथ तेज प्रताप की इस मामले पर सहमति हो सकती है. इतना ही नहीं तेज प्रताप के मनाने के लिए उनके दोस्तों की मदद भी ली गई है. हो सकता है कि इन कोशिशों से कोई बेहतर नतीजा निकल आए.

ये भी पढ़ें :  सरकार क्यों करती है किसानों के कर्जे माफ, आंखें खोल देने वाला सच

शुक्रवार को तलाक की खबर आने के बाद लालू और चंद्रिका राय दोनों परिवार और राजद के सभी समर्थक सकते में थे लेकिन अब यादव परिवार में थोड़ी तसल्ली है.नज़दीकी लोगों का कहना है कि  तेज प्रताप पिता के स्वास्थ्य के कारण थोड़ा नरम पड़ गए हैं.

आरजेडी अध्यक्ष लालू यादव भी बेटे तेज प्रताप यादव के इस फैसले से खासे नाराज हैं.  कहा जा रहा है कि उसके बाद उन्होंने तेज प्रताप को उनसे मिलने का आदेश दिया. बताया जा रहा है कि रातभर लालू ठीक से सो नहीं सके और उनकी तबीयत भी ठीक नहीं है.

ये भी पढ़ें :  उस निहत्थे शख्स ने जंगल में शेर को मार दिया, आप भी कर सकते हैं ऐसा

इससे पहले तेजप्रताप ने कहा कि बहुत दिन से झेल रहा था और अब मैं उसे झेल नहीं सकता. मेरी शादी राजनीति के लिए कराई गई थी. पीएम भी बोले तो नहीं मानूंगा.

तेजप्रताप ने कहा कि मेरा और ऐश्‍वर्या का झगड़ा हो रहा था. पापा के सामने भी झगड़ा हुआ और मम्मी के सामने भी कई बार हमारे बीच नोकझोंक हुई है. सभी लोग देख रहे हैं लेकिन नजरअंदाज कर रहे हैं. अब तीर निकल चुका है तो पीछे नहीं हटूंगा.

तेज प्रताप एश्वर्या के सात साथ अपने मामा के बच्चों से नाराज़ हैं. उनका कहना है कि मेरे मामा के लड़के ओम प्रकाश और नागमणी ने मुझे मोहरा बनाया है और अब हमारा तमाशा बना रहे हैं. मैं फैसले पर अडिग हूं बदलने वाला नहीं हूं. ओम प्रकाश ने माता जी से पता नहीं क्या कहा, मुझे पता नहीं है. हमको फंसाया गया है. ऐश्‍वर्या ने भी कहा था कि मुझे तलाक दे दो.

ये भी पढ़ें :  'आप' के साथ आए बीजेपी के बागी, केजरीवाल का शत्रुघ्न सिन्हा को बड़ा ऑफर

मां मेरी बात सुनने को तैयार नहीं थी , हम कभी शादी नहीं करना चाहते थे. हमने मां बाप के सामने कहा कि हमारी आपस में बन नहीं रही है. तेजप्रताप यादव ने कहा कि लाख दुनिया मानएगी तब भी हम नहीं मानेंगे.चाहे पीएम ही पैरवी करें तब भी हमारा फैसला नहीं बदलेगा.

Spread the love

Leave a Reply