अपने खिलाफ चार्जशीट से कन्हैया कुमार खुश, दिया ये बयान

नई दिल्ली: जेएनयू (JNU) नारेबाजी मामले में दिल्ली पुलिस की ओर से दाखिल की गई चार्जशीट पर कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने कहा है कि उन्हें इस मामले की कोई जानकारी नहीं दी गई है. हालांकि उनके नज़दीकी लोगों का कहना है कि कन्हैया कुमार इस घटनाक्रम से खुश हैं क्योंकि अब वो खुद पर लगे आरोपों को झूठा साबित कर सकेंगे.

उधर कन्हैया कु्मार ने कहा कि दिल्ली पुलिस को इस मामले में सबूत पेश करना चाहिए. कन्हैया कुमार (Kanhaiya Kumar) ने एनडीटीवी से फोन पर बातचीत करते हुए कहा कि इस मामले की त्वरित सुनवाई हो. उनका दावा है कि दिल्ली पुलिस के पास कोई सबूत नहीं है. अज्ञात एफआईआर पर मेरी गिरफ्तारी की गई थी. कन्हैया कुमार ने कहा कि उन्हे्ं न्याय प्रक्रिया पर पूरा भरोसा है और कोर्ट में सरकार की साजिश का पर्दाफाश हो जाएगा.
गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस ने जेएनयू (JNU) मामले में पटियाला हाउस कोर्ट में चार्जशीट आज दाखिल कर दी है.ये चार्जशीट पूरे 1200 पेज की है जिसे एक ट्रंक में रखकर अदालत ले जाया गया.

ये चार्जशीट सेक्शन-124 A,323,465,471,143,149,147,120B के तहत पेश की गई है. चार्जशीट में कुल 10 मुख्य आरोपी बनाए हैं जिसमें कन्हैया कुमार,उमर खालिद और अनिर्बान भट्टाचार्य हैं. चार्जशीट में मुख्य आरोपी कन्हैया कुमार, अनिर्बान भट्टाचार्य, उमर खालिद, सात कश्मीर छात्र और 36 अन्य लोग हैं.

चार्जशीट के मुताबिक कन्हैया कुमार ने भी देश विरोधी नारे लगाए थे. गवाहों के हवाले से चार्जशीट में बताया गया है कि कन्हैया कुमार ने भी देश विरोधी नारे लगाए थे. पुलिस को कन्हैया का भाषण देते हुए एक वीडियो भी मिला है. इसके साथ ही कहा गया है कि कन्हैया को पूरे कार्यक्रम की पहले से जानकारी थी. चार्जशीट में जिन सात कश्मीरी छात्रों के नाम हैं, उनसे पूछताछ हो चुकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *