नया भारत: संसद में एक तरफ जय श्री राम तो दूसरी तरफ से अल्लाहो अकबर के नारे

भारत धर्मनिरपेक्ष देश है लेकिन इस देश की संसद में देश के लिए कानून बनाने वाले धर्म निरपेक्ष बातें नहीं करते बल्कि धार्मिक बातें करते हैं. संसद में आज फिर ऐसा ही नज़ारा देखने को मिला. मौका था सांसदों के शपथ ग्रहण का.

संसद सत्र के दूसरे दिन मंगलवार (18 मई) को आल इंडिया मजलिस-इ-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने सांसद पद की शपथ ली. लेकिन इस दौरान संसद का माहौल उस वक्त गरम हो गया जब ओवैसी के शपथ ग्रहण के दौरान कुछ बीजेपी सांसदों ने सदन में ही जय श्रीराम और वंदेमातरम के नारे लगने लगे.

इसके बाद ओवैसी ने जवाब देते हुए कहा कि अच्छा है मुझे देखकर उन्हें (भजपाईओं) ये शब्द याद आए, काश उन्हें मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत भी याद आ जाए. इस दौरान ओवैसी ने अल्‍लाह-हो-अकबर कहकर जवाब दिया.

दरअसल, जैसे ही ओवैसी सांसद पद की शपथ लेने के लिए उठे तो कुछ बीजेपी नेताओं ने जय श्रीराम, भारत माता की जय, वंदे मातरम के नारे लगाने शुरू कर दिए. इसके बाद ओवैसी ने जवाब दिया कि अच्छा है कि उन्हें ये चीजें मुझे देखकर याद आईं. उम्मीद है कि वे संविधान और मुजफ्फरपुर में बच्चों की मौत भी याद रखेंगे.

शपथ पूरी होने के बाद में ओवैसी ने जय मीम- जय भीम, अल्ला-हो- अकबर और जय हिन्द के नारे लगाए. इस दौरान शपथ के बाद ओवैसी साइन करना भूल गए, ऐसे में एक अधिकारी के टोकने पर उन्‍होंने साइन किया.

बता दें कि ओवैसी हैदराबाद से लगातार चौथी बार सांसद चुने गए हैं. उन्होंने आज उर्दू भाषा में शपथ ली है. लोकसभा के पहले सत्र के दूसरे दिन बीजेपी के ओम बिड़ला, कांग्रेस के शशि थरूर, शिरोमणि अकाली दल के सुखबीर बादल और बीजेपी के सनी देओल समेत कई दिग्गज नेताओं ने भी सांसद पद की शपथ ली. गौरतलब है कि ओम बिड़ला लोकसभा अध्यक्ष के चुनाव में बीजेपी के उम्मीदवार होंगे.