चुनाव से पहले दिल्ली में हिंदू नेता को मारने मचाने आए थे ISIS वाले-पुलिस

आपको ये जानकर खुशी होगी कि दिल्ली पुलिस ने राजधानी में ISIS के जिन तीन संदिग्ध आतंकियों को पकड़ा था उन्होंने सबकुछ कबूल कर लिया है. पत्रकारों का कहना है कि ये बड़ा खुलासा है. खुलासे में बताया गया कि पूछताछ के दौरान जफर नाम के एक आतंकी ने खुफिया एजेंसी (Intelligence Agency) को बताया है कि वो शहादत के लिए यहां आया था. पुलिस सूत्रों की मानें ( ये इसलिए लिखा जाता है कि न भी मानें तो आपकी मर्जी)


उसको यहां पर बड़े और फेमस हिंदू नेताओं की हत्या करने का टारगेट दिया गया था. फेमस नेताओं की जानकारी उसे शहर में लगे पोस्टरों से लेनी थी. पोस्टरों से नेताओं का पता लगाकर ये पूरी प्लानिंग के साथ उन पर हमला करते. उसने यह भी बताया कि उन्हें सेना और पुलिस के भर्ती कैंप (Recruitment Camp) की रेकी करने की भी जिम्मेदारी दी गई थी. उन्हें उनके आकाओं (हैंडलर) से कहा गया था कि यदि कोई वर्दी पहने हुए बड़ा अधिकारी दिखे तो उसकी हत्या कर दो. मतलब भारत में हिंदू मुसलमान मचा दो.

खुफिया एजेंसी के अधिकारियों के मुताबिक, इन तीनों आतंकियों की योजना देश के विभिन्न शहरों में बड़े हमले की थी. इसके अलावा आरएसएस के कई बड़े नेता भी उनके निशाने पर थे. अधिकारियों का कहना है कि पकड़े गए ISIS आतंकवादियों की उत्तर प्रदेश भी में बड़े हमले करने की साजिश थी. ऐसे में उत्तर प्रदेश एटीएस अब दिल्ली एटीएस से संंपर्क में है. वो इन्हें अपने कब्जे में लेकर पूछताछ की तैयारी में है.

इस बीच पूछताछ में यह भी खुलासा हुआ है कि आपस में बातचीत करने के लिए ये तीनों आतंकी ऐसे ऐप का इस्तेमाल करते थे कि कम्युनिकेशन खत्म होते ही टेक्स्ट अपने-आप डिलिट हो जाते थे. लेकिन हिंदू नेताओं के बारे में पता इन्हें सड़क सड़क भटक भटक कर पोस्टर से ही लगाना था

बता दें कि नौ जनवरी को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने एनकाउंटर के बाद ISIS के तीन संदिग्धों को पकड़ा था. तब पुलिस अधिकारी पीएस कुशवाहा ने बताया था कि गिरफ्तार तीनों आरोपी तमिलनाडु से फरार थे. इनके तीन और साथी थे जो नेपाल भाग गए. इन तीनों पर आरोप है कि ये दिल्ली और वेस्टर्न उत्तर प्रदेश में टेरर स्ट्राइक करने वाले थे. ये आतंकी संगठन आईएसआईएस माड्यूल से प्रभावित थे. इसके अलावा ये एक नेता की हत्या में भी शामिल थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.