बच गई गहलोत सरकार ? मीडिया के सामने 100 विधायकों की परेड

खबर सब तक पहुंचाएं

राजस्थान में अशोक गहलोत की सरकार पर मंडरा रहा संकट अब हटता हुआ दिख रहा है. अबतक की रिपोर्ट कहती है कि अशोक गहलोत की सरकार बच गई है. सोमवार दोपहर को अशोक गहलोत ने सौ से अधिक विधायकों की परेड मीडिया के सामने करवाई और विक्ट्री साइन दिखाया.

साफ है कि अशोक गहलोत ने संदेश दिया है कि उनके पास बहुमत है और सचिन पायलट के सभी दावे गलत साबित होते दिख रहे हैं. ऐसे में अब हर किसी की नजर इसपर है कि सचिन पायलट क्या कदम उठाएंगे. सचिन पायलट लगातार 25 से अधिक विधायक होने का दावा कर रहे थे. लेकिन अशोक गहलोत ने मीडिया के सामने 100 विधायक पेश करके अपने दावे को मजबूत साबित कर दिया है.

ये भी पढ़ें :  सुषमा स्वराज का साथ क्यों नहीं दे रहे बीजेपी नेता, किससे डर रहे हैं पार्टी वाले

उधर सूत्रों के हवाले से खबर थी कि  सचिन पायलट आज भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात कर सकते हैं. इस खबर के सामने आने के बाद से चर्चाओं का दौर चल पड़ा है और कयास लगाए जा रहे थे कि सचिन पायलट भी ज्योतिरादित्य सिंधिया के नक्शे-कदम पर चलते हुए भाजपा में शामिल हो सकते हैं. गौरतलब है कि रविवार की शाम में सचिन पायलट ने दिल्ली में सिंधिया से उनके आवास पर मुलाकात की थी.

ये भी पढ़ें :  मोदी के मंत्री ने दलित की ज़मीन छीनी ! नितीश की पुलिस दर्ज नहीं कर रही थी रपट

कांग्रेस नेतृत्व ने भी प्रदेश में बिगड़ते हालात को संभालने के लिए पार्टी के चार वरिष्ठ नेताओं को हालात संभालने के लिए जयपुर भेज दिया है. इन नेताओं में रणदीप सुरजेवाला, अविनाश पांडेय, अजय माकन और केसी वेणुगोपाल का नाम शामिल है.

कांग्रेस महासचिव अविनाश पांडे ने दावा किया है कि राज्य के 109 विधायक मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के समर्थन में हैं और उन्होंने इस संबंध में एक समर्थन पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं. उन्होंने कहा कि कुछ और विधायक भी मुख्यमंत्री गहलोत के संपर्क में हैं और वे भी समर्थन पत्र पर हस्ताक्षर कर देंगे.


खबर सब तक पहुंचाएं