IPL मैच में क्यों लगे “चौकीदार चोर है” के नारे ?

जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में किंग्स इलेवन पंजाब और राजस्थान रॉयल्स के बीच सोमवार को खेले गए आईपीएल मैच का एक वीडियो सोशल मीडिया पर इस दावे के साथ शेयर किया जा रहा है कि मैच के दौरान स्टेडियम में ‘चौकीदार चोर है’ के नारे लगे.

2019 के आईपीएल टूर्नामेंट का ये चौथा मैच था. इस मैच का 24 सेकेंड का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है.

वीडियो में किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाज़ निकोलस पूरन क्रीज़ पर दिखाई देते हैं और राजस्थान रॉयल्स के गेंदबाज़ जयदेव उनादकट रन-अप के लिए लौट रहे हैं.

इसी दौरान वीडियो में ‘चौकीदार चोर है’ के नारे लगने की आवाज़ सुनाई देती है. वायरल वीडियो में पाँच बार ये नारा सुनाई देता है.

जबकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने रफ़ाल मुद्दे को लेकर कुछ महीने पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए कहा था कि ‘चौकीदार चोर है’.

बहरहाल व्हाट्सऐप और शेयरचैट समेत फ़ेसबुक और ट्विटर पर आईपीएल मैच का ये वीडियो सैकड़ों लोग शेयर कर चुके हैं.

कई लोगों ने सोशल मीडिया पर इस वीडियो के फ़र्ज़ी होने की बात भी लिखी है

ख़ुद को राजस्थान का बताने वाले ललित देवासी नाम के ट्विटर यूज़र ने लिखा, “समय का फेर देखिए, जिस आईपीएल 2014 में ‘मोदी-मोदी’ के नारे लगते थे, उसी आईपीएल में 2019 में ‘चौकीदार चोर है’ के नारे लगने लगे. समय का पहिया चलता रहता है.”

फ़ेसबुक पर इसी दावे के साथ क़रीब 6 भाषाओं के अलग-अलग ग्रुप्स में यह वीडियो पोस्ट किया गया है.

बीबीसी ने जाँच में पाया कि ये वीडियो भी असली है और ये घटना भी, मगर इसका संदर्भ कुछ और है.

स्टेडियम में सिर्फ़ एक ही नारा?

जयपुर में शाम को 8 बजे ये मैच शुरू हुआ था. स्टेडियम में औसत भीड़ थी.

टीम ‘किंग्स इलेवन पंजाब’ को पहले बल्लेबाज़ी करने का मौक़ा मिला.

मैच की पहली पारी के 14वें ओवर में स्पीकर से अनाउंसमेंट हुई ‘जीतेगा भई जीतेगा!’. इसके जवाब में दर्शकों के बीच से आवाज़ आई ‘राजस्थान जीतेगा’.

15वें और 17वें ओवर में भी मैच से जुड़े ये नारे दोहराये गए.

राजस्थान रॉयल्स के गेंदबाज़ जयदेव उनादकट ने जब 18वें ओवर की पहली गेंद डाली तो स्टेडियम के नॉर्थ स्टैंड से मोदी-मोदी के नारों की आवाज़ आनी शुरू हुई.

स्टेडियम के वेस्ट स्टेंड में बैठकर ये मैच देख रहे 23 साल के बीटेक स्टूडेंट जयंत चौबे ने बताया, “स्टेडियम में एंट्री के समय काफ़ी चेकिंग थी. कोई पॉलिटिकल सामग्री अंदर ले जाने की अनुमति नहीं थी. मैच की शुरूआत में म्यूज़िक भी तेज़ था. लेकिन 18वें ओवर में नारे साफ़ सुनाई दिए.”

लेकिन 18वें ओवर की दूसरी गेंद पर जब पंजाब टीम के बल्लेबाज़ निकोलस पूरन ने जयदेव की गेंद पर चौका जड़ा तो उसके बाद नारे बदले हुए सुनाई दिए.

भीड़ से तेज़ आवाज़ आई- ‘चौकीदार चोर है’. पाँच बार ये नारा बोला गया.

हॉट-स्टार की आधिकारिक वेबसाइट पर इस पूरे सिलसिले को सुना जा सकता है.

1 टिप्पणी

  1. THIs is really surprising. This was the same thing where Modi’s supporters were everywhere raising the slogans of Modi Modi and now same slogans but with addition Chor hai. Even in the speeches of Congress leaders, these persons were raising the slogans of Modi Modi. इन्होंने 5 साल सिवाय रुलाने के कुछ नहीं किया। किसी भी विषय पर बात होती थी, एक लाइन के बाद राहुल गांधी और कांग्रेस के विरूद्ध बाते शुरू हो जाती थी। यह प्रधान मंत्री के पद की गरिमा के अनुरूप था क्या। जैसा बोओ गे वैसा काटोगे।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.