देखिए आंकड़े, कोहली ज़रूरत पर कभी काम नहीं आते, बेकार सिर पर बैठा रखा है

भारत के लोगों से जिस पर चाहो तालियां बजवा लो. पढ़ना लिखना सच और झूठ की पड़ताल करना इससे किसी को कोई लेना देना नहीं. दो छक्के लगा दिए तो हो जाते हैं दीवाने. विराट कोहली को सिर आंखों पर बैठाए रखने वाले भारतीय दर्शकों को शायद नहीं पता कि जब सबसे ज्यादा ज़रूरत होती हैं, जब मैच बड़ा होता है तो विराट कोहली फिसड्डी बन जाते हैं.  

ओल्ड ट्रेफर्ड मैदान पर खेले जा रहे पहले सेमीफाइनल मैच में बुधवार को न्यूजीलैंड द्वारा दिए गए 240 रनों का पीछा करने उतरी भारत ने अपने तीन विकेट पांच रनों पर ही खो दिए हैं. भारत ने रोहित शर्मा (1), कप्तान विराट कोहली (1) और लोकेश राहुल (1) के विकेट खो दिए हैं.

इस मैच में विराट कोहली कीवी गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए. कोहली इस अहम सेमीफाइनल मुकाबले में केवल एक रन ही बना पाए. किसी कप्तान से ऐसी घटिया पारी की उम्मीद कैसे की जा सकती है.   

विराट कोहली की बात करें तो वह वर्ल्ड कप 2015 सेमीफाइनल मैच में भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक रन बनाकर आउट हुए थे. यह पहला मौका नहीं है जब विराट कोहली वर्ल्ड कप के किसी नॉकऑउट मैच में फ्लॉप हुए हैं.

इससे पहले कोहली 2011 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल मैच में पाकिस्तान के खिलाफ महज नौ रन बनाकर आउट हुए थे. उस मैच में वह तेज गेंदबाज वहाब रियाज की गेंद पर उमर अकमल के हाथों कैच दे बैठे.

इसके बाद कोहली 2015 वर्ल्ड कप सेमीफाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक रन बनाकर आउट हुए. उस मैच में वह कंगारू तेज गेंदबाज मिचेल जॉनसन की गेंद पर ऊंचा शॉट खेल बैठे और विकेटकीपर बैड हेडिन की गेंद पर आउट हो गए.

वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में कोहली का प्रदर्शन

9(21) बनाम पाकिस्तान (2011 वर्ल्ड कप)

1(13) बनाम ऑस्ट्रेलिया (2015 वर्ल्ड कप)

1(6) बनाम न्यूजीलैंड (2019 वर्ल्ड कप)

वर्ल्ड कप के नॉक आउट मैचों में विराट का प्रदर्शन

24(33) – बनाम ऑस्ट्रेलिया (क्वार्टर फाइनल, 2011 वर्ल्ड कप)

9(21) – बनाम पाकिस्तान (सेमीफाइनल, 2011 वर्ल्ड कप)

35(49)- बनाम श्रीलंका (फाइनल, 2011 वर्ल्ड कप)

3(8) – बनाम बांग्लादेश (क्वार्टर फाइनल, 2015 वर्ल्ड कप)

1(13) – बनाम ऑस्ट्रेलिया (सेमीफाइनल, 2015 वर्ल्ड कप)

1(6) – बनाम न्यूजीलैंड (सेमीफाइनल, 2019 वर्ल्ड कप)

विराट कोहली वर्ल्ड कप के नॉकऑउट मैचों में 12.16 की औसत से महज 73 रन ही बना पाए हैं. इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 56.15 का रहा है जो बेहद शर्मनाक है.