ये मूर्खता बना सकती है पूरे देश को बीमार, प्लीज़ मत कीजिए ये गलती

कोरोना वायरस के जरिए दिल्ली एनसीआर में तीन दिन की छुटटी और कोरोना का खौफ लोगों को संकट में डाल रहा है. हालात ये हैं कि लोग दिल्ली छोड़ छोड़कर दूसरी जगहों पर जा रहे हैं. रेल्वे स्टेशनों पर भीड़ है. जिन लोगों को वर्क फ्रॉम होम की सुविधा मिली है वो अपना काम अपने शहर से ही करना चाहते हैं. स्टेशन पर मौजूद मुसाफिरों के हवाले से एक न्यूज एजेंसी ने बताया कि लोग डरे हुए हैं और अपने शहर में अपने परिवार के साथ रहना चाहते हैं.

लेकिन इसके साथ ही एक खतरा बढ़ गया है. स्टेशनों पर भीड़भाड़ और ट्रेन में मुसाफिरों के लदे होने के कारण बीमारी एक से  दूसरे व्यक्ति में फैलने का खतरा है. ये भी डर है कि द्ल्ली और मुम्बई जैसी जगहों से इनफैक्शन छोटे शहरों और कस्बों में तेजी से न पहुंच जाए.

दिल्ली की कई कंपनियों में 31 मार्च तक छुट्टी है ऐसे में लोग दस दिन का समय दिल्ली में बितान नहीं चाहते. कुछ लोगों को दिल्ली में परिवार के बीच खतरे का भी अंदेशा है. ये कहते हैं कि छुट्टी की फायदा उठाकर वो दिल्ली के संक्रामक वातावरण से बचे रहेंगे.

दिल्ली में जहां लोगों को एक दूसरे से दूर रहने की सलाह दी जा रही है. उम्मीद की जा रही है कि लोग घर से न निकलें. बाजार बंद हैं. मेट्रो सेवा भी बंद करने का फैसला लिया गयाहै. कल जनता कर्फ्यू भी है. ऐसे में लोगों का भीड़ में जाना और भीड़ भरी ट्रेनों में सफर करना देश के लिए खतरनाक हो सकता है.