टेस्ट क्रिकेटर और बीजेपी नेता चेतन चौहान का कोरोना से निधन

दिल्ली से लोकसभा चुनाव लड़ चुके. बीजेपी के नेता पूर्व क्रिकेटर और उत्तर प्रदेश के होमगार्ड मंत्री चेतन चौहान का निधन हो गया है. लगभग 4:30 बजे चेतन चौहान का निधन कार्डियक अरेस्ट के कारण हुआ. गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में उनका इलाज चल रहा था. चेतन चौहान कोरोना वायरस से भी संक्रमित थे.

73 वर्षीय चेतन चौहान की एक दिन पहले ही तबीयत और बिगड़ गई थी. उनकी किडनी फेल हो गई थी. जिसके कारण उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था. जुलाई के महीने में ही चेतन चौहान की कोरोना वायरस रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. चेतन चौहान के निधन के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गहरा शोक व्यक्त किया है.

ये भी पढ़ें :  क्या दाऊद इब्राहिम से चंदा लेती हैं पार्टियां ? सबसे ज्यादा बेनामी आय है बीजेपी की

बता दें कि चेतन चौहान भारतीय क्रिकेट टीम के एक अहम बल्लेबाज रह चुके हैं. चेतन चौहान ने भारतीय क्रिकेट टीम के लिए 40 टेस्ट मुकाबले खेले हैं. इसके अलावा चेतन चौहान ने सात एकदिवसीय मुकाबलों में भी भारत का प्रतिनिधित्व किया है. टेस्ट मुकाबलों मे चेतन चौहान के नाम 2084 रन दर्ज हैं. टेस्ट मैचों में उनका सर्वोच्च स्कोर 97 रन है.

क्रिकेट के बाद चेतन चौहान ने राजनीति में अपनी पारी की शुरुआत की. चेतन चौहान भारतीय राजनीति में सक्रिय भूमिका अदा कर रहे थे. चेतन चौहान भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से लोकसभा सांसद भी रह चुके हैं. 1991 और 1998 के चुनाव में वह बीजेपी के टिकट पर सांसद बने थे. फिलहाल चेतन चौहान उत्तर प्रदेश की योगी सरकार में मंत्री पद पर थे.

ये भी पढ़ें :  एक गूंगी गुड़िया जो चंडी बन गई. इंदिरा के राजनीतिक सफर की दास्तान

वर्तमान में चेतन चौहान अमरोहा जिले की नौगांवा विधानसभा के विधायक थे. वहीं चेतन चौहान योगी सरकार के दूसरे कैबिनेट मंत्री हैं, जिनका कोरोना वायरस के कारण निधन हुआ है. इससे पहले कैबिनेट मंत्री कमला रानी का लखनऊ के पीजीआई में कोरोना वायरस के कारण निधन हुआ था.