चीन में भी कोरोना के कारण लोगों का पलायन, हिंसा की भी खबर

कोरोना वायरस को लेकर भारत में ही तनाव और पलायन के मामले समाने नहीं आ रहे. चीन में पलायन के दौरान हिंसा हुई और लोगों ने गुस्ता दिखाने के लिए बवाल मयाया. लॉक डाउन खुलने के बाद लोग एक प्रांत से दूसरे प्रांत जाना चाहते थे लेकिन पुलिस ने लोगा इससे गुस्सा भड़क गया.

लोग क्योंकि हुबेई से लोग बाहर जाना चाह रहे हैं. लोग भारी संख्या में हुबेई से बाहर जाने की कोशिश कर रहे हैं,जिससे भीड़ और जाम की स्थिति पैदा हो गई. बता दें कि इस दौरान चीन ने लॉकडाउन में ढील दी हुई है. कनाडा की मीडिया द ग्लोब एंड मेल ने चीनी सोशल मीडिया वेबसाइट्स पर डाली गई कुछ वीडियोज का हवाला देते हुए शुक्रवार को कहा था कि हुबेई को पड़ोसी प्रांत जियांगशी से जोड़ने वाले पुल पर भी हिंसा हुई थी.

ऑनलाइन वीडियोज में ये भी दिख रहा है कि भारी भीड़ लॉकगेट को खोलने के लिए चिल्ला रही है. पुलिस की कुछ गाड़ियों को भी पलट दिया गया है. स्थानीय मीडिया के अनुसार ये हिंसा तब फैली, जब अधिकारियों ने पुलिस को ब्रिज पर तैनात कर दिया और लोगों की हुबेई से जियागशी प्रांत में एंट्री बंद कर दी. टोल बूथ पर मौजूद एक काम करने वाले हुआंग ने द ग्लोब एंड मेल को शुक्रवार को दिए इंटरव्यू में बताया कि ये झड़प शाम तीन बजे से 6 बजे के बीच हुई.

सरकारी मीडिया ने ब्रिज पर हुई झड़प को कहा खेदजनक

हुआंग ने बताया कि ये सब ब्रिज के बीच में हुआ, जहां रास्ता ब्लॉक कर के लोगों को आगे जाने से रोका जा रहा था. शुक्रवार शाम को डिजिटल मैपिंग ऐप्स में दिखा कि ब्रिज को कंस्ट्रक्शन के लिए दोनों तरफ से बंद कर दिया गया है. वीबो पर चीन के सरकारी मीडिया ने कहा कि ब्रिज पर हुई झड़प खेदजनक है.

बुधवार से ही खोल दिया गया है लॉकडाउन

सरकार की आधिकारिक पॉलिसी के अनुसार जो लोग वुहान के बाहर रहते हैं और स्वस्थ हैं, वह बुधवार से ही कहीं भी आ जा सकते हैं. अथॉरिटीज ने रेलवे को दोबारा शुरू कर दिया है, लंबी दूरी की बसें भी शुरू कर दी गई हैं और शुक्रवार तक सभी हाईवे खोल दिए गए हैं. पिछले हफ्तों में हुबेई में सिर्फ एक मामला सामने आया है. हुबेई में अब तक करीब 68000 मामले सामने आए हैं, जिनमें से 3174 की मौत हो चुकी है.

8 अप्रैल को खुलेगा हुबेई का लॉकडाउन

शुक्रवार को अथॉरिटीज ने रिस्क की कैटेगरी को हाई रिस्क से घटाकर मीडियम रिस्क पर कर दिया है. 8 अप्रैल को हुबेई का लॉकडाउन खुलने वाला है. बता दें कि अब तक चीन में 81 हजार से भी अधिक लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं, जबकि करीब 3300 की मौत हो चुकी