प्रतीकात्मक तस्वीर

स्कूटी से महंगा उसका चालान, शख्स छोड़ आया थाने में

केन्द्र सरकार के मोटर व्हीकल एक्ट के दुष्परिणाम सामने आने लगे हैं. सबसे पहली मार गरीबों पर ही पड़ रही है. दिल्ली के गीता कॉलोनी के दिनेश मदान नाम के व्यक्ति के पास संसाधन न होने के कारण वो स्कूटी से गुरुग्राम गया था वहां कल यानी 2 सितंबर को तकरीबन 1 बजे रेस्ट हाउस के सामने पुलिस के कुछ जवानों ने रोका उसके पास हेलमेट नहीं था. गाड़ी के पेपर्स भी घऱ पर ही छोड़ आया था. पुलिस ने इस मामले पर नये रेट सेचालान बनाया तो उसके उपर 23 हज़ार का हिसाब बना.

पुलिस ने उसकी स्कूटी अपने पास रखली और विदाउट हेलमेट, विदाउट आर सी, विदाउट पॉल्यूशन, विदाउट ड्राइविंग लाइसेंस, विदाउट इंश्योरेंस का  दोषी पाया. पुरानी स्कूटी लेकर मदान साहब क्या करेंगे .

लेकिन सोशल मीडिया पर इसे लेकर गुस्सा है. लोग परेशान है कि इतने कड़े जुर्माने तो कभी अंग्रेज़ोंके जमाने में भी नहीं लगाए गए.