एक्जिट पोल को ही बीजेपी ने रिजल्ट माना, सरकारें गिराने की कवायद शुरू

आम चुनाव निपटते ही बीजेपी अपने तानाशाही रवैये पर उतर आई है. अभी नतीजे भी नहीं आए हैं और मध्य प्रदेश में बीजेपी ने सरकार गिराने का खेल शुरू कर दिया है. बीजेपी ने कहा है कि मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार के पास बहुमत नहीं है. इसलिए राज्यपाल विशेष सत्र बुलाकर सरकार से बहुमत साबित करने को कहें. इस खबर में ये याद दिलाना बेहद ज़रूरी है कि मध्यप्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल हैं.

इस पत्र के राज्यपाल के पास जाते ही. मध्य प्रदेस के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि वो शक्ति परीक्षण के लिए तैयार हैं. पांच महीनों में वे लोग कम से कम चार बार बहुमत हासिल कर चुके हैं. ऐसे में वह फिर से बहुमत साबित कर के दिखाएंगे. सीएम ने इसके अलावा आरोप लगाया कि वे (बीजेपी) लोग अपनी पोल खुलने के डर से घबराए हुए हैं, लिहाजा वे हमें परेशान करने की कोशिश कर रहे हैं.

सोमवार (20 मई, 2019) को उन्होंने ‘एएनआई’ से कहा, “वे (बीजेपी वाले) एक दिन से इन चीजों के प्रयास कर रहे हैं. बीते पांच महीनों में हम कम से कम चार बार बहुमत साबित कर चुके हैं. वे ऐसा फिर से करना चाहते हैं, तो हमें कोई दिक्कत नहीं है.

चूंकि वह कहीं बेनकाब न हो जाएं, इसलिए वे मौजूदा सरकार को अव्यवस्थित करने के लिए अपना पूरा जोर लगाएंगे. सरकार (हम) फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार है.”