पानी मांगने गई महिला को विधायक ने ज़मीन पर गिरा-गिराकर पीटा, अब जनता से कौन डरता है.

जब वोट मोदी के नाम पर ही मिलना हो. जब भरोसा हो कि लोग वोट न भी दें तो भी जीत पक्की है तो नेताओं का आचरण ऐसा ही हो जाता है. गुजरात में बीजेपी के एक विधायक ने पानी की माँग करने पर एक महिला को बुरी तरह पीटा.

बताया जाता है कि विधायक के समर्थकों ने महिला के पति के साथ भी मारपीट की है. विधायक की दबंगई का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. वीडियो में दिखाई दे रहा है कि कुछ लोगों द्वारा महिला को ज़मीन पर गिराकर उसे पीट रहे हैं. विधायक भी ज़मीन पर गिरी महिला को लात मारते दिखाई दे रहे हैं. विधायक का नाम बलराम थावानी है और वह अहमदाबाद की नरोडा सीट से बीजेपी का प्रतिनिधित्व करते हैं.

गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने इस घटना का वीडियो ट्वीट किया है. मेवाणी ने लिखा है कि अहमदाबाद के नरोडा इलाक़े में पानी की किल्लत की शिकायत करने गई एक महिला को गुजरात बीजेपी के विधायक बलराम थावानी ने खुलेआम बेरहमी के साथ पीटा है. गुजरात के डीजीपी और अहमदाबाद पुलिस को विधायक को तुरंत गिरफ़्तार कर लेना चाहिए.

जानकारी के मुताबिक़, एक स्थानीय महिला नीतू तेजवानी पानी न मिलने की शिकायत लेकर विधायक के दफ़्तर पहुँची थी. नीतू राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) की नेता हैं. नीतू के मुताबिक़, ‘मेरी बात सुनने से पहले ही विधायक ने मुझे चांटा मार दिया और जब मैं नीचे गिर गई तो उन्होंने मुझ पर लात-घूँसे बरसाने शुरू कर दिए. विधायक के लोगों ने मेरे पति के साथ भी मारपीट की. मैं मोदी जी से पूछना चाहती हूँ कि बीजेपी के शासन में महिलाएँ इस तरह की गुंडागर्दी में आख़िर कैसे सुरक्षित हैं.’

अब देखना है कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली बीजेपी अपने विधायक की इस दबंगई पर क्या कार्रवाई करती है. क्योंकि विधायक और उसके समर्थकों की दबंगई के इस वीडियो के सामने आने के बाद बीजेपी को जवाब देना भारी पड़ सकता है.