मॉब लिंचिग में 1 की हत्या 4 घायल, BJP नेता गिरफ्तार, 4 फरार

मॉब लिचिंग में बीजेपी के एक नेता को गिरफ्तार किया गया है. आरोप है कि  इस नेता ने भीड़ को भड़काया जिसने एक व्यक्ति को पीट पीट कर मार डाला और 5 लोगों को बुरी तरह घायल कर दिया. घटना मध्य प्रदेश को बुधवार पांच फरवरी को घटी थी. घायलों में एक ही हालत गंभीर बताई जा रही है. यह घटना धार जिले के मनावर क्षेत्र के बोरलाई गांव में हुई थी. अब पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करते हुए भारतीय जनता पार्टी (BJP) के एक नेता को भीड़ को उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया है.

पुलिस के मुताबिक बीजेपी के नेता रमेश जूनापनी ही इस भीड़ का नेतृत्व कर रहे थे. जूना पानी ने मजदूरों के खिलाफ लोगों को ये कहकर भड़काया कि वो बच्चा चुराने आए थे. पुलिस का कहना है कि इस मामले में 4 अन्य लोग भी शामिल हैं.

बताया जा रहा है कि सभी 6 पीड़ित किसान खिडकिया गांव में करीब डेढ़ से ढ़ाई लाख रुपए की वसूली करने गए थे. उन्होंने यह पैसे मजदूरों को उनके खेत में काम करने के एवज में दिए थे. दरअसल इनलोगों ने काम के बदले पैसे तो लिए थे लेकिन इन्होंने काम नहीं किया था.

पैसा वसूलने यहां आए किसानों और मजदूरों के बीच पैसों को लेकर विवाद शुरू हो गया और फिर मामला इतना बढ़ा कि एक व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई और काफी देर तक हंगामा होता रहा.

इस मामले में ‘The Indian Express’ ने धार के एसपी के हवाले से खबर छापी है कि कि बीजेपी नेता समेत 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. जबकि 4 अन्य लोगों की तलाश की जा रही है.

इधर इस मामले पर मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने यह कहते हुए राज्य की सरकार पर निशाना साधा कि पीड़ितों ने पुलिस को पहले ही सूचना दी थी कि वो उस गांव में पैसे वसूलने जा रहे हैं लेकिन पुलिस यहां कानून-व्यवस्था को बनाए रखने में नाकाम रही.

पूर्व सीएम ने कहा कि मध्य प्रदेश ‘तालिबान प्रदेश’ बन गया है. हालांकि इसपर पलटवार करते हुए राज्य के वरिष्ठ मंत्री गोविंद सिंह ने आरोप लगाया कि इस तरह का काम आरएसएस और भारतीय जनता पार्टी के माइंडसेट के लोग ही करते हैं.