#metoo पर अमित शाह का अजीब बयान, अकबर की तरफ दिखा नरम रुख

तीन दिन तक मुंछ छिपाने के बाद अब एम जे अकबर के समर्थन में बीजेपी खुलकर आ गई है. मोदी सरकार ने जहां ऐसे मामलों की जांच के लिए कमेटी गठित करने की बातें करके तत्परता दिखाने की कोशिश कर रही है वहीं.  वहीं इस कैंपेन की गिरफ्त में फंसे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर पर अब भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने  कुछ अलग ही बयान दिया है बयान दिया है.

जो आदमी पद का दुरुपयोग करके महिलाओं का दैहिक शोषण करने के अनेक आरोप झेल रहा हो उसे केन्द्रीय मंत्री का अहम पद दिए रखने वाली बीजेपी ने कहा है कि वो किसी के बयान पर यूं ही भरोसा नहीं करेगी.

अमित शाह ने एक और बयान दिया है. उन्होंने कहा कि ये देखना पड़ेगा कि बयान आरोप लगाने वाली लड़कियों ने दिया भी है या नहीं . इसका एक संकेत तो है. अकबर को बचाने के लिए पार्टी लड़कियों के बयान वापस करवाने की कोशिश कर सकती है.

पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने अकबर पर लगे शोषण के आरोपों पर कहा है कि देखना पड़ेगा, ये सच हैं या गलत. उन्होंने कहा, ‘देखना पड़ेगा कि यह सच है या गलत. हमें उस शख्स के पोस्ट की सत्यता जांचनी होगी, जिसने आरोप लगाए हैं. मेरा नाम इस्तेमाल करते हुए भी आप कुछ भी लिख सकते हैं.’

हालांकि, इस मामले की जांच की जाएगी या नहीं, इस पर उन्होंने कोई ठोस जवाब नहीं दिया. लेकिन शाह ने इतना जरूर कहा कि ‘इस पर जरूर सोचेंगे.’

#MeToo कैंपेन के तहत तमाम महिलाएं आपबीती शेयर कर रही हैं और बता रही हैं कि जीवन के किस हिस्से और किस वक्त में उन्हें यौन शोषण का शिकार पड़ा या उनसे काम के बदले फेवर मांगा गया. इसी कड़ी में कुछ महिला पत्रकारों ने मौजूदा केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री और वरिष्ठ पत्रकार रहे एमजे अकबर के खिलाफ गंभीर इल्जाम लगाए हैं.

केंद्रीय मंत्री पर लगातार सामने आ रहे आरोपों पर कांग्रेस घेराबंदी कर रही है. इस मामले में बीजेपी की चुप्पी भी सवाल उठाए जा रहे हैं, जिसके बीच अमित शाह का ये बयान सामने आया है.

मोदी सरकार ने ऐसे मामलों की जांच के लिए एक कमेटी का भी गठन किया है. वरिष्ठ न्यायविद् और कानून के पेशे से जुड़े लोग इस कमेटी के मेंबर होंगे और सारे मामलों की जांच करेंगे.

1 टिप्पणी

  1. क्या हो गया है सुषमा स्वराज जी आप की भी आवाज़ बन्द हो गयी है। यदि यह किसी कांग्रेस के नेता के खिलाफ आवाज़ उठती तो उसी समय उस नेता के खिलाफ आप सब एक मोर्चा बना कर खड़े हो गए होते।

Comments are closed.