कनॉट प्लेस के पास ‘अमित शाह’ को कुल 230/ft के रेट में ज़मीन, आचार संहिता से दो दिन पहले खेल

दिल्ली के कनाट प्लेस के नज़दीक ज़मीन का रेट कुल 1 करोड़ रुपये एकड़. जी हां सिर्फ एक करोड़ रुपये एकड़. दूसरे शब्दों में कहें तो कुल 229.56 पैसे प्रति वर्ग फुट के रेट में ज़मीन, आपको ज़मीन तो छोड़िए फ्लैट भी 30000 रुपये फुट के रेट में मिल जाए तो गनीमत समझो. वैसे दिल्ली में एक एकड़ ज़मीन की कीमत 300 करोड़ रुपये है.

लेकिन ये ज़मीन आपको भी सिर्फ एक करोड़ रुपये में मिल सकती है. लेकिन इसकी एक शर्त है. आप भी अमित शाह जैसे शक्तिशाली नेता हों. जी हां दिल्ली में चुनाव आचार संहिता लागू होने से ठीक दो दिन पहले डीडीए ने 600 करोड़ कीमत की ज़मीन सिर्फ 2 करोड़ रुपये में दे दी है.

इकोनॉमिक्स टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार आदर्श आचार संहिता लागू होने से एक दिन पहले, केंद्र ने अपने मुख्यालय के लिए भाजपा को दिल्ली के बीच में अतिरिक्त 2 एकड़ जमीन के आवंटन के लिए तीन साल पुराने प्रस्ताव को मंजूरी दे दी. चुनाव आयोग द्वारा चुनाव की तारीखों की घोषणा से एक दिन पहले 9 मार्च को, दिल्ली विकास प्राधिकरण ने दीन दयाल उपाध्याय मार्ग पर 2.189 एकड़ भूमि के उपयोग के लिए एक मसौदा अधिसूचना जारी की. इस अधिसूचना में इस जमीन के उपयोग को ‘समूह आवास’ से बदलकर ‘सार्वजनिक और अर्ध-सार्वजनिक सुविधा’ कर दिया गया.

दिल्ली की आम आदमी पार्टी लगातार इस आवंटन का विरोध करती रही. इससे पहले भी स्कूल की ज़मीन बीजेपी को मुख्यालय बनाने के लिए दे दी गई थी. अब जो प्लॉट दिल्ली बीजेपी को दिया गया है  यह प्लॉट 3बी डीडीयू मार्ग, बीजेपी के मुख्यालय 6ए डीडीयू मार्ग के ठीक सामने है. भूमि उपयोग में बदलाव की अधिसूचना के साथ सरकार ने 2015 में शुरू की गई आवंटन प्रक्रिया का निपटारा किया. इस 2 एकड़ जमीन के लिए के लिए बीजेपी 2.08 करोड़ रूपए देगी.

2006 में यूपीए सरकार द्वारा बनाए गए राजनीतिक दलों के लिए भूमि आवंटन नियमों के अनुसार, संसद में जिन पार्टियों के 101 से 200 सांसद हैं वे पार्टी 2 एकड़ जमीन की हकदार है. यदि किसी पार्टी में 200 से अधिक सांसद हैं, तो वह 4 एकड़ का हकदार है. हालांकि, नियमों में ये नहीं है कि अगर अगले चुनाव में किसी पार्टी के सांसद कम हो जाते हैं तो क्या होगा. मई 2014 में सांसद बढ़ने के बाद, बीजेपी 4 एकड़ की हकदार थी, जिसमें से 6ए दीन दयाल उपाध्याय मार्ग पर जहां अभी भाजपा का मुख्यालय है 2 एकड़ पहले से ही आवंटित थी.