5 सितंबर से शुरू होगी अंबानी की फायबर सर्विस, मुफ्त 4 k

लायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की आज 42वीं आम वार्षिक बैठक (Annual General Meeting) हुई. इस बैठक में मुकेश अंबानी ने कई बड़े ऐलान किए. रिलायंस की इस एजीएम बैठक का कंपनी के यूट्यूब चैनल समेत अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर लाइव प्रसारण हुआ.

इस ऐलान के मुताबिक आगामी 5 सितंबर से जियो के उपभोक्ताओं को यह सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी. इस सेवा के तहत यूजर्स को 100 एमबीपीएस से लेकर 1 जीबीपीएस की स्पीड वाले इंटरनेट की सेवाएं मिलनी शुरू हो जाएंगी. जियो फाइबर प्लान के मुख्य बिंदु निम्न हैं.

700 रुपये प्रति महीने से सर्विस की शुरुआत होगी, वहीं अधिकतम 10,000 रुपए महीने तक का प्लान भी उपलब्ध रहेगा. स्पीड की बात करें तो इसकी स्पीड 100 एमबीपीएस से लेकर 1 जीबीपीएस तक होगी.

जियो फाइबर के कस्टमर्स यदि पूरे साल के लिए इस सेवा को लेते हैं तो उन्हें एक एलईडी टीवी मुफ्त मिलेगा. बता दें कि यह टीवी एचडी या 4k टीवी भी हो सकता है, जिसके साथ 4k सेट-टॉप बॉक्स भी बिल्कुल मुफ्त मिलेगा.

जियो फाइबर अपने यूजर्स को आजीवन घर से मुफ्त वॉयस कॉल की सुविधा भी देगा और ये मुफ्त कॉल किसी भी टेलीकॉम ऑपरेटर पर की जा सकेंगी. फिक्सड लाइन पर जियो इंटरनेशनल कॉलिंग की दरें सबसे कम होंगी.

जियो ने 500 रुपए महीने की दर पर एक इंटरनेशनल कॉलिंग पैक भी पेश किया है, जिससे यूएस और कनाडा कॉल की जा सकेंगी.

गौरतलब है कि जियो फाइबर प्लान OTT प्लान्स और सर्विस के साथ आएगा. जिसकी मदद से जियो यूजर्स रिलीज के पहले दिन और पहले शो में ही किसी फिल्म को देख सकेंगे. जियो इस सेवा को साल 2020 में लॉन्च करने जा रहा है.

जियो ने पोस्टपेड प्लान्स के लिए अपनी PostPaid service भी लॉन्च की है. इस सेवा के तहत कंपनी एक डाटा प्लान देगी, जिसे परिवार के सभी लोग शेयर कर सकेंगे. इस प्लान में इंटरनेशनल कॉलिंग कम दरों पर, फोन अपग्रेड आदि की सुविधा भी मिलेगी. इस प्लान से संबंधी सभी जानकारियां आगामी 5 सितंबर को जियो की आधिकारिक वेबसाइट पर लॉन्च की जाएंगी.

जियो ने आईटी की दिग्गज कंपनी माइक्रोसॉफ्ट के साथ क्लाउड कंप्यूटिंग के क्षेत्र में साझेदारी का भी ऐलान किया है. इस साझेदारी के तहत रिलायंस जियो पूरे देश में डाटा सेंटर स्थापित करेगा, जिनमें माइक्रोसॉफ्ट अपना Azure क्लाउड प्लेटफॉर्म लगाएगा. माइक्रोसॉफ्ट के सीईओ सत्या नाडेला ने भी रिलायंस की एजीएम बैठक के दौरान एक संदेश दिया और इसकी पुष्टि की.