राफेल की कीमत वाली फाइल चोरी, सुप्रीम कोर्ट में सरकार का बयान

सुप्रीम कोर्ट में केन्द्र सरकार ने कहा है कि राफेल की कीमतों से जुड़ी हुई फाइल चोरी हो गई है. उन्होंने कहा कि फाइल चुराकर किसी ने हिंदू को प्रकाशन के लिए दे दी. इस बात के दो मतलब है. एक तो ये कि राफेल की कीमतें जानबूझकर सुप्रीम कोर्ट को गलत बताई गई थीं. दूसरा ये कि द हिंदू ने जो रिपोर्ट छापी थी वो सही थी .

कोर्ट में अटार्नी जनरल ने कहा कि मामले में कागज़ निकालने वालों को पक़ड़ने के लिए जांच की जा रही है. उन्होंने कहा कि जिसने भी कागज़ाद हासिल किए उसके खिलाफ ऑफिशियल सीक्रेट एक्ट में कार्रवाई बनती है.

अटॉर्नी जनरल ने
कहा कि कागजात रक्षा मंत्रालय से चोरी हुए हैं.

चीफ जस्टिस ने इस
तर्क के जवाब में सरकार से पूछा कि कि अखबार में एक महीने पहले ये खबर छपी थी अबतक
आप क्या कर रहे थे. चोरी हुई थी तो एक्शन क्यों नहीं लिया. अदालत ने सरकार को
फटकार लगाते हए कहा कि दो बजे तक आप बताएं कि इस मामले में क्या कर रहे हैं.

इस इस सुनवाई के
बाद कयास लगाया जा रहा है कि कहीं ये वही फाइल तो नहीं जिसका मनोहर पर्रिकर की लीक
हुई फोन रिकॉर्डिंग में जिक्र था. ये भी अनुमान लगाया जा रहा है कि पर्रिकर ने ये
फाइल बाद में राहुल गांधी को दी जो कांग्रेस ने द हिंदू को लीक कर दी.

Leave a Reply