मनोहर पर्रिकर की हालत नाजुक, चुनाव में भुनाने की तैयारी में बीजेपी

गोवा के बीजेपी विधायक और डिप्टी स्पीकर माइकल लोबो ने शनिवार को कहा कि वे मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के ठीक होने की प्रार्थना कर रहे हैं लेकिन उनके बचने की संभावना नहीं है. उन्होंने कहा, ‘गोवा में नेतृत्व नहीं बदलेगा. जब तक पर्रिकर हैं वही गोवा के मुख्यमंत्री रहेंगे और किसी ने उनकी जगह लेने की मांग नहीं की है. हम प्रार्थना कर रहे हैं कि वह ठीक हो जाएं लेकिन इसकी कोई संभावना नहीं है. यदि उन्हें कुछ हो जाता है तो अगला मुख्यमंत्री बीजेपी से ही होगा.’

इधर मनोहर पर्रिकर की तबियत खराब है उधर पार्टी की सोशल मीडिया सेल ने अभी से पर्रिकर के नाम को चुनाव में भुनाने के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं. कई कैंपेन तैयार किए जा रहे हैं जिनमें मनोहर पर्रिकर को राफेल से जोड़कर कैंपेन तैयार किया गया है. सूत्रों का कहना है कि जो कैंपेन तैयार करके रख लिए हैं वो राफेल पर पीएम मोदी के लिए ढाल बनकर इस्तेमाल किए जा सकते हैं. इसके अलावा राहुल गांधी पर निशाना साधने वाला भी एक कैंपेन है. जो जुमले इस कैपेन के लिए तैयार किए गए हैं उनमें राहुल द्वारा राफेल पर पर्रिकर का नाम इस्तेमाल करने वाला मामला भी है.

कांग्रेस ने गोवा में सरकार बनाने का दावा पेश किया है और सोशल मीडिया सेल इस सूचना को लेकर भी उत्साहित है.

गोवा के डिप्टी स्पीकर लोबो ने आगे कहा, ‘कल रात पर्रिकर की तबीयत बेहद खराब हो गई थी इस वजह से इमरजेंसी बैठक बुलाई गई थी. वह डॉक्टरों की निगरानी में हैं और उनका कहना है कि वह ठीक हो जाएंगे. तीन विधानसभा सीटों पर उपचुनाव होने हैं. बैठक इन सीटों पर उम्मीदवारों की घोषणा को लेकर थी.’

इससे पहले पर्रिकर के स्वास्थ्य को लेकर सीएम कार्यालय ने ट्वीट किया था, ‘मीडिया में कुछ रिपोर्टों के संबंध में, यह स्पष्ट किया जाता है कि मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर की हालत स्थिर है.’ कुछ दिनों पहले माइकल लोबो ने कहा था कि पर्रिकर बहुत बीमार हैं और वह सिर्फ भगवान भरोसे जिंदा हैं.

बता दें कि गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर लंबे वक्त से बीमार चल रहे हैं. पैनक्रियाटिक कैंसर से पीड़ित 61 वर्षीय पर्रिकर को 31 जनवरी को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) में भर्ती कराया गया था. हाल ही में बीमार मुख्यमंत्री ने 3 मार्च को गोवा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (जीएमसीएच) में चेक-अप कराया था. फरवरी में पर्रिकर का जीएमसीएच में एक ऑपरेशन भी हुआ था.

इससे पहले विपक्ष ने कहा था कि पर्रिकर को उनकी बीमारियों के कारण उनके कर्तव्यों से मुक्त कर दिया जाना चाहिए. हालांकि, गोवा के बिजली मंत्री निलेश कैबरल ने गुरुवार को एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि पर्रिकर आगामी चुनाव के लिए गोवा भाजपा के अभियान के लिए मार्गदर्शक बने रहेंगे.

Leave a Reply