झांसी की रानी का एक अंग्रेज़ अफसर से लव अफेयर था !!!

झांसी की रानी का एक अंग्रेज़ अफसर से लव अफेयर था !!!

नई दिल्ली :  झांसी की रानी महारानी लक्षमी बाई का एक अग्रेज से लव अफेयर था. ये अंग्रेज़ एक अफसर का नाम रॉबर्ड एलीस (Robert Ellis)  था. लंदन में रहने वाली लेखक जयश्री मिश्रा ने अपनी किताब RANI में इसका जिक्र किया है. कर्णी सेना की मौसेरी बहन सर्व ब्राह्मण महासभा का कहना है कि कंगना रानावात की फिल्म में ये अफेयर दिखाया जाने वाला है.

इस संगठन का कहना है कि ये ब्राह्मणों का अपमान है और फिल्म को वो रिलीज नहीं होने देंगे. संगठन के बयानों को दोहराने की इसलिए ज़रूरत नहीं है क्योंकि वो वही कह रहा है जो कर्णी सेना पद्मावत पर कह रही थी.

फिल्म को लेकर विवाद इतना कि भी कंगना इस फिल्म में चोटिल हो जाती हैं तो कभी फिल्म की शूटिंग के खिलाफ प्रदर्शन होने लगता है.  ऐसा आरोप लगाया जा रहा है कि फिल्म में मणिकर्णिका का एक अंग्रेजी अफसर से लव अफेयर यानि प्रेम संबंध दिखाया गया है. ऐसा मानना है सर्व ब्राह्मण महासभा का. जिसके अनुसार फिल्म में झांसी की रानी मणिकर्णिका जो एक ब्राह्मण थी उन्हें गलत तरह से दिखाया जा रहा है.

सुरेश मिश्रा का कहना है कि अगर कोई किताब पहले से ही बैन है तो उसका हिस्सा आखिर क्यों फिल्म में लिया जा रहा है. करणी सेना की राह पर अब ब्राह्मण महासभा ने भी ये कहा है कि वो इस फिल्म की शूटिंग राजस्थान में नहीं होने देंगे और साथ ही साथ शूटिंग को रोकने के लिए कुछ भी करेंगे.

मिश्रा का कहना है कि उन्होंने प्रोड्यूसर को एक खत लिखा था 9 जनवरी को, लेकिन लगभग एक महीने बाद भी इसका कोई जवाब नहीं आया है.

“झांसी की महारानी लक्ष्मीबाई एक ब्राह्मण थीं और इसलिए संस्था और ब्राह्मण समाज के कुछ सवाल हैं इस फिल्म को लेकर. ये ब्राह्मण समुदाय की भावनाओं की रक्षा के लिए है.” ये उस खत में लिखा गया था जिसे फिल्म के प्रोड्यूसर कमल जैन को भेजा गया है.

सर्व ब्राह्मण महासभा का कहना है कि वो राजस्थान के होम मिनिस्टर गुलाब चंद कटारिया से मिलेंगे और ये बात करेंगे कि फिल्म के डायरेक्टर और प्रोड्यूसर एक एफिडेविट दें जिसमें वो ये मानें कि फिल्म में कुछ भी विरोध करने लायक नहीं है और साथ ही उसकी कहानी भी शेयर करें. वर्ना उसका वही हाल होगा जो पद्मावत का हुआ था.

करणी सेना भी साथ?

पद्मावत के समय सर्व ब्राह्मण महासभा ने राजपूतों का समर्थन किया था और इसीलिए अब राजपूत भी ब्राह्मण महासभा का समर्थन करेंगे. करणी सेना के प्रेसिडेंट महिपाल मखराना ने कहा कि अगर मिश्रा जी इस फिल्म का विरोध कर रहे हैं तो हम उनका समर्थन करेंगे. रानी लक्ष्मीबाई उनकी इज्जत थीं और हमारी भी हैं.