लड़कियों के प्राइवेट पार्ट का फोटो देखकर शादी करवाने वाला बाबा ! जानिये आजकल कहा है

लड़कियों के प्राइवेट पार्ट का फोटो देखकर शादी करवाने वाला बाबा ! जानिये आजकल कहा है

नई दिल्ली : एक साधू द्वारा काला जादू से मुक्ति दिलाने के नाम पर लड़की के प्राइवेट पार्ट का फोटो मांगने का शर्मनाक वाकया सामने आया है. दक्षिण दिल्ली की 32 साल की एक युवती ने यह आरोप लगाया है. लड़की अपनी शादी न होने से परेशान थी और इस समस्या से मुक्ति के लिए साधू के पास गई थी. लड़की की शिकायत पर वसंत कुंज (नॉर्थ) थाने में आईपीसी की धारा 354 ए के तहत यौन उत्पीड़न का मामला दर्ज किया गया है.

हालांकि, साइबर एक्सपर्ट का कहना है कि पुलिस को आरोपी पर इंन्फॉर्मेशन एक्ट के तहत भी मामला दर्ज करना चाहिए था. शिकायत करने वाली लड़की ने पुलिस को बताया कि वह साधू के पास करीब पांच महीने पहले अपनी मां के साथ अपना कुंडली दिखाने गई थी. किसी ने उसे साधू का नाम सुझाते हुए कहा था कि वह उसके लिए उपयुक्त वर तलाश सकते हैं. कुछ पूजा-पाठ करने के बाद साधू ने भरोसा दिया था कि, वह लड़की के लिए जल्दी ही कोई उपयुक्त वर तलाश लेंगे.’

लड़की के अनुसार कुछ दिनों के बाद साधू के पास लड़की का फोन आया कि अपने बायोडाटा की एक कॉपी और फोटो भेज दे. एफआईआर में लड़की ने कहा है, ‘बिना किसी सवाल के मैंने ऐसा कर दिया. मुझे क्या पता था कि मैं एक ऐसे समस्या को दावत दे रही हूं जो मुझे इतना आहत करेगा. कुछ दिनों के बाद मेरे पास साधू की तरफ से एक व्यक्ति का फोन आया जिसने कहा कि वह मेरी समस्या दूर कर सकता है.’

अंग्रेज़ी अखबार मेल टुडे से बात करते हुए इस युवती ने बताया, ‘वह मुझसे कई असहज सवाल करने लगा, जैसे मैं किसी के साथ रिलेशनशिप में तो नहीं हूं, या मैं किसी खास लड़के से बात करती हूं, या मैं किसी से प्रभावित हूं क्या. मुझे यह थोड़ा अटपटा लगा, लेकिन मैंने इसे गंभीरता से नहीं लिया. इसके बाद उसने मेरी बायीं हथेली की फोटो भेजने का कहा. मेरी हस्तरेखा देखने के बाद कहा गया कि मेरे ऊपर काला जादू किया गया है.’

लड़की के अनुसार, ‘उसने कहा कि वह इस बला से छुटकारा दिला देगा और पैसा कुछ भी नहीं लेगा. इसके बाद उसने कहा कि मुझे अपने प्राइवेट पार्ट का फोटो भेजना होगा. उसने किसी महिला के प्राइवेट पार्ट का एक फोटो भी भेजा, यह समझाने के लिए कि मुझे किस तरह से फोटो भेजना है.’

महिला ने कहा, ‘मैं नहीं चाहती कि आगे वह किसी और के साथ ऐसा व्यवहार कर पाए. मैंने इसके बारे में अपने परिवार को नहीं बताया, क्यों‍कि वे इसे रफादफा कर देते. मैंने पहले एफआईआर कराया, उसके बाद अपने परिवार को इस बारे में बताया.’