केजरीवाल ने की कुमार विश्वास की बड़ी बेइज्जती, इस बार विनीत चौहान ने कुमार का टिकट काटा

केजरीवाल ने की कुमार विश्वास की बड़ी बेइज्जती, इस बार विनीत चौहान ने कुमार का टिकट काटा

नई दिल्ली :  अरविंद केजरीवालन ने इस बार कुमार विश्वास की जबरदस्त बेइज्जती की है. उन्हे दिल्ली हिंदी अकादमी के कवि सम्मेलन में नहीं बुलाया गया है. इससे पहले कुमार विश्वास को कवि सम्मेलन की के संचालन की जिम्मेदारी दी जाती थी.

केजरीवाल ने उनको हटाया तो कुमार विश्वास ने भी जवाबी हमला कर दिया. विश्वास ने कहा कि इस बार हालात ऐसे हैं कि सरकार की हिम्मत नहीं हो रही कि उन्हें श्रोता रूप में भी बर्दाश्त कर सके इसलिए  सरकार में बैठे लोग उनसे नज़रें चुराने की कोशिश कर रहे हैं. कुमार बोले- लाल किले के कवि-सम्मेलन में निमंत्रण मिलना-न मिलना उनके लिए महत्वपूर्ण विषय नहीं है क्योंकि वो लोगों के दिलों के लाल किले में बसे हुए हैं.

विश्वास बोले कि यह उनके लिए कोई विशेष मुद्दा नहीं है, सरकार के कवि-सम्मेलनों में उनकी कोई रुचि नहीं रही है. लेकिन जब से दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार बनी है, तब से अधिकारी और अकादमी सदस्यों ने उन्हें प्रेमपूर्वक कमोबेश हर कार्यक्रम में अतिथि रूप में बुलाया है.  कुमार ने कहा कि हिन्दी अकादमी के अलावा उर्दू अकादमी, संस्कृत अकादमी, मैथिली-भोजपुरी अकादमी, पंजाबी अकादमी इत्यादि ने भी उन्हें अपने प्रोग्राम में बुलाया है.

कुमार को हटाने पर आम आदमी पार्टी नेता सौरभ भारद्वाज ने अजीब बयान दिया. उन्होंने कहा- आपको कुमार को सुनने का शौक है तो इंटरव्यू देख लीजिए. आजकल दो दो घंटे के कापी इंटरव्यू आ रहे हैं. जो लोग सुनना चाहें वहां उन्हें सुन सकते हैं. उन्होंने कहा कि सभी लोग कुमार को न बुलाने की वजह जानते हैं. बार-बार एक ही बात बोलने से कोई फर्क नहीं आएगा.