‘आप’ ने जारी किया वीडियो- केजरीवाल को पैसे कमाने के लिए टिकट बेचने की ज़रूरत नहीं

‘आप’ ने जारी किया वीडियो- केजरीवाल को पैसे कमाने के लिए टिकट बेचने की ज़रूरत नहीं

नई दिल्ली : राज्यसभा के उम्मीदवारों की घोषणा के बाद टिकट बेचने के लग रहे आरोपों का आम आदमी पार्टी  (आप) ने जोरदार तरीके से खंडन किया . उन्होंने कहा कि लोगों को सोचना चाहिए कि आप के साथ दलित जैसा व्यावहार क्यों होता है. सब जगह चुनाव हो रहा है लेकिन दिल्ली पर ही चर्चा हो रही है. उन्होंने फेसबुक पर जारी एक वीडियो में कहा कि केजरीवाल के पास कमाने के बहुत मौके थे. अगर सीएम अरविंद केजरीवाल चाहते तो काम की जगह पैसा बनाते, लेकिन उन्होंने सिर्फ ईमानदारी से काम किया.

गोपाल राय ने कहा, ‘दूसरे राज्यों में क्या होता है किसी को पता नहीं चलता, लेकिन दिल्ली में राज्यसभा उम्मीदवार के नाम की घोषणा हुई है और हर तरफ अभियान शुरू कर दिया गया है कि कि पार्टी ने 50 करोड़ में टिकट बेच दिया है. यह पहली बार नहीं है जब ऐसा हुआ है, बल्कि हर तीन महीने में आम आदमी पार्टी और केजरीवाल को बदनाम करने की कोशिश की जाती है. ‘आम आदमी पार्टी खत्म हो रहा है’, को स्थापित करने की कोशिश की जा रही है.’

गोपाल राय ने विपक्षियों पर निशाना साधते हुए कहा कि केजरीवाल चाहते तो वह बिजली कंपनियों से डील करके पैसा बना लेते जैसा कि दूसरी पार्टियां करती रही हैं, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. पिछले तीन सालों में बिजली के दाम नहीं बढ़े तो वह केजरीवाल की ईमानदारी का ही नतीजा है.

दिल्ली के निजी स्कूलों के फीस वृद्धि का उल्लेख करते हुए गोपाल राय ने कहा, ‘राष्ट्रीय राजधानी 1000 से ज्यादा निजी स्कूल हैं. जब फीस बढ़ती थी, पहले अलग-अलग पार्टियां स्कूल वालों से चंदा लेती थीं. अगर इन प्राइवेट स्कूलों को छूट दे दी जाए तो केजरीवाल को पैसा मिल सकता है, लेकिन केजरीवाल ने ऐसा नहीं किया. निजी स्कूलों के खिलाफ वह सीना तान के खड़े हैं.’

राय ने हाल ही में नवजात बच्चे की मौत को लेकर शालीमार बाग स्थित मैक्स हॉस्पिटल के खिलाफ की गई कार्रवाई पर भी सीएम केजरीवाल की पीठ थपथपाई है और कहा कि अगर वह ईमानदारी नहीं दिखाते तो मैक्स का लाइसेंस कैंसल नहीं कर पाते.

गोपाल राय यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे दिल्ली के बजट के जरिए केजरीवाल की ईमानदारी बताया. उन्होंने कहा, ‘दिल्ली का बजट 40,000 करोड़ रुपये का है. अगर केजरीवाल को पैसा ही खाना होता, एक प्रतिशत की भी सेटिंग कर लेते तो हजारों करोड़ रुपये उनके पास आ जाते.’

उल्लेखनीय है कि आम आदमी पार्टी से निलंबित किए गए विधायक कपिल मिश्रा ने बुधवार को पार्टी चीफ अरविंद केजरीवाल पर पैसे लेकर राज्यसभा सीटें बेचने का आरोप लगाया था. इसके अगले ही दिन बीजेपी के एक सांसद ने भी पार्टी की राज्यसभा सीटों को 100 करोड़ रुपयों में बेचे जाने का आरोप लगाया है. पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी सांसद प्रवेश वर्मा ने कहा कि अगर ये आरोप झूठे निकले तो वह परिवार सहित देश छोड़ देंगे.