सड़क जाम करके जब किन्नरों ने कपड़े उतारकर किया फ्लैश मॉब, इसके बाद …

सड़क जाम करके जब किन्नरों ने कपड़े उतारकर किया फ्लैश मॉब, इसके बाद …

गाज़ियाबाद :  पुलिस वाले थाने में बैठे थे और बाहर उनका अर्धनग्न होकर डांस चल रहा था. एक के बाद एक करके किन्नर आते कपड़े उतारते और दंगा करते. हंगामा करने वाले असली किन्नर थे और उनको नकली किन्नरों से शिकायत थी. पुलिस सुन नहीं रही थी इसलिए उन्होंने जमकर बवाल काटा. उन्होंने चक्का भी जाम कर दिया. करीब एक घंटे तक किन्नरों का सेमी नैकेड डांस सह प्रदर्शन चलता रहा और उसके बाद किन्नरों का दूसरा डांस शुरू हुआ. ये डांस पुलिस ने करवाया . पुलिस की लाठियां चल रही थीं और किन्नर उछल रहे थे. पुलिस ने दो किन्नरों को गिरफ्तार भी किया.

किन्नरों की टेंशन काम धंधे से जुड़ी है. उनका आरोप है कि सचिन नाम का किन्नर दो फर्जी किन्नर (महिलाओं) के साथ बागू क्षेत्र में बधाइयां मांगकर पैसा लेता है. महिला होकर वह खुद को किन्नर बताती हैं. इतना ही नहीं किन्नरों से एरिया बांटने को भी बोलता है. जब सचिन और उसकी सहेलियों को इलाका नहीं दिया गया तो उन्होंने जबरदस्ती बधाइयां लेनी शुरू कर दीं.

प्रदर्शन कर रहे किन्नरों ने कहा कि सोमवार को उन्होंने सचिन और दोनों महिलाओं को पकड़कर पुलिस को सौंप दिया था. उनके खिलाफ तहरीर भी दी थी. आरोप है कि पुलिस ने सचिन का तो चालान कर जेल भेज दिया, लेकिन महिलाओं को पैसा लेकर छोड़ दिया.

किन्नरों का कहना है कि इन महिलाओं को भी गिरफ्तार किया जाए. इसी मांग को लेकर मंगलवार को करीब 100  किन्नर विजयनगर थाने पर पहुंचे. उन्होंने पुलिस पर आरोप लगाए और महिलाओं को गिरफ्तार किए जाने ती मांग की. तत्काल कार्रवाई न होने पर किन्नरों ने थाने के बाहर प्रदर्शन कर सड़क जाम कर दी. कई किन्नरों ने कपड़े भी उतार दिए. करीब एक घंटे बाद भी हंगामा बंद न हुआ तो पुलिस ने लाठियां फटकारी. सड़क जाम और हंगामा करने के मामले में दो किन्नर प्रिया और रोमा पर शांति भंग की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर गिरफ्तारी की गई है.