राहुल गांधी का मोदी पर हमला, कहा हार रहे हैं इसलिए बौखला रहे हैं साहेब

राहुल गांधी का मोदी पर हमला, कहा हार रहे हैं इसलिए बौखला रहे हैं साहेब

अहमदाबाद: कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद आज राहुल गांधी ने प्रेस कांफ्रेंस की . उन्होंने मोदी पर कई हमले किए साथ ही कहा कि मैं उनके बारे में कुछ नहीं बोलूंगा “मोदी अगर सीप्लेन में उड़ना चाहते हैं तो अच्छी बात है. लेकिन सवाल है कि गुजरात की जनता के लिए उन्होंने क्या किया गया? इससे पहले उन्होंने द्वारका के जगन्नाथ मंदिर में पूजा की. राहुल का ये 27वें मंदिर का दौरा था. बता दें कि आज गुजरात चुनाव के दूसरे फेज के प्रचार का आखिरी दिन है. 14 दिसंबर को 93 सीटों के लिए वोटिंग होगी. 18 दिसंबर को नतीजे आएंगे.

राहुल गांधी के स्पीच की 7 अहम बातें:

1) गुजरात में वन साइडेड विकास

– राहुल गांधी ने कहा- “बीते 22 साल में मोदी और विजय रूपाणी ने वन साइडेड विकास किया है. केवल 10 लोगों का ही विकास किया. नैनो के लिए 33 हजार करोड़ कहां गए?’ बीजेपी इस चुनाव में अपनी पोजिशन बरकरार नहीं रख पाई. ये नरेंद्र मोदी के अंतिम भाषणों में साफ दिख जाता है. पीएम या तो कांग्रेस की बात कर रहे हैं या अपनी बात कर रहे हैं.”

2) मंदिर में जाना मना है क्या?

-राहुल ने कहा- “अब तक मैं गुजरात में जितने भी मंदिरों में गया हूं, वहां गुजरात के सुनहरे भविष्य की कामना की. मेरे मंदिर में जाने को मुद्दा बनाया गया. किसी का मंदिरों में जाना मना है क्या?

– ” मैं केदारनाथ गया था. वहां जाता रहता हूं. ये बीजेपी वालों की ही स्टोरी है कि मैं मंदिर नहीं जाता. केदारनाथ गुजरात में है क्या?”

3) GST ने गुजरात के व्यापारियों को नुकसान किया

– राहुल ने कहा, “गब्बर सिंह टैक्स ने गुजरात के व्यापारियों को जमकर नुकसान किया है. गुजरात की एक टीचर ने मुझे रोते हुए बताया कि महंगाई तो बढ़ी है लेकिन हमारी सैलरी नहीं बढ़ी.”

4) कांग्रेस किसानों का कर्ज माफ करेगी, युवाओं को रोजगार देंगे

– राहुल गांधी ने कहा- “हम युवाओं को रोजगार देंगे, किसानों का कर्ज माफ करेंगे. हमने 3-4 महीने में गुजरात की जनता की बात सुनी है. हम जो भी बात करते हैं, वो हमने की है, चाहे मुआवजा हो, कर्ज माफी, एजुकेशन या फिर किसानों को दी जाने वाली मिनिमम सपोर्ट प्राइस हो.”

5) मैं मोदी के बारे में गलत नहीं बोल सकता

– राहुल गांधी ने कहा- “मोदीजी मेरे बारे में गलत बोलते हैं, पर मैं उनके बारे में गलत नहीं बोलूंगा. चुनाव नरेटिव यानी इश्यूज पर जीते जाते हैं. मोदीजी ने एक बार भी अपने भाषणों में भ्रष्टाचार (राफेल डील) का कोई जिक्र नहीं किया. हमने उनसे पूछा कि जिस उद्योगपति की कंपनी ने कभी प्लेन नहीं बनाया, जिसपर 45 हजार करोड़ का कर्ज है, उसे डील क्यों दी?”

– “जिस तरह से मणिशंकरजी ने मोदीजी पर बोला. मैंने साफ कर दिया कि मोदी देश के पीएम भी हैं. उनके लिए गलत बयानबाजी नहीं चलेगी. हमने मणिशंकर को सस्पेंड कर दिया. मनमोहन पर पीएम का जवाब सही नहीं है. उन्होंने देश के लिए काफी काम किया है.”

6) मोदी सीप्लेन में उड़ना चाहते हैं तो अच्छी बात है

– राहुल ने कहा- “मोदी अगर सीप्लेन में उड़ना चाहते हैं तो अच्छी बात है, लेकिन सवाल है कि गुजरात की जनता के लिए उन्होंने क्या किया गया? गुजरात के 30 लाख लोग बेरोजगार हैं? आपने गुजरात के हॉस्पिटल्स में डॉक्टरों को तैनात किया? इस पर वो क्या कहते हैं- हां या न.”

7) गुजरात में मुझे बहुत प्यार मिला

– राहुल गांधी ने कहा- “पिछले 3 महीने में गुजरात ने मुझे इतना प्यार दिया है कि मैं जिंदगीभर नहीं भूल सकता. जहां गया, लोगों ने मुझे खाखरा, मूंगफली और मिर्ची का अचार खिलाया. जब भी मेरी जरूरत हो, सिर्फ आपको बुलाने की जरूरत है.”

– “मैं कांग्रेस के काम करने की आइडियोलॉजी को देश में फैलाना चाहता हूं. ये प्यार से करना चाहता हूं. मोदी मेरे राजनीतिक विरोधी हैं. मेरे मुंह से उनके बारे में गलत शब्द नहीं निकलेंगे.”