प्रद्युम्न हत्याकांड में वकील टेकरीवाल को पुलिस ने पीटा, CCTV में हकीकत

प्रद्युम्न हत्याकांड में वकील टेकरीवाल को पुलिस ने पीटा, CCTV में हकीकत

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट के वकील प्रद्युम्न हत्याकांड में प्रद्युम्न के पिता के वकील सुशील टकरीवाल के साथ पुलिस ने मारपीट की है. घटना सीसीटीवी में कैद हुई है. कोर्ट में प्रद्युम्न ठाकुर का केस लड़ रहे वकील सुशील के टेकरीवाल ने पुलिस पर इस बारे में गंभीर आरोप लगाए हैं. उनके साथ सात उनकी पत्नी के साथ भी मारपीट हुई. टेकरीवाल के मुताबिक उन्हें प्रद्युम्न वाला केस छोडने के लिए धमकी भी दी गई. जब ये घटना हुई टेकरीवाल अपने परिवार के सात अशोका होटल में डिनर के लिए गए हुए थे.

दूसरी ओर पुलिस ने वक्तव्य जारी कर कहा है कि VVIP मूवमेंट के चलते टेकरीवाल को रोका जा रहा था और उनसे कुछ मिनट इंतजार करने के लिए कहा गया, लेकिन टेकरीवाल नहीं माने और पुलिसकर्मियों के साथ बदतमीजी की.

घटना शनिवार की रात करीब 8.30 बजे की है, जब टेकरीवाल अपनी पत्नी और परिवार के साथ डिनर के लिए गए हुए थे. टेकरीवाल ने पुलिस कमिश्नर से इसकी लिखित शिकायत की है. टेकरीवाल का कहना है कि वह शनिवार की रात अपनी पत्नी और 14 वर्षीय बेटे के साथ होटल अशोक डिनर के लिए गए हुए थे. तभी वहां जिप्सी में सवार तीन पुलिसकर्मी आए और उनके परिवार पर हमला कर दिया.

टेकरीवाल ने अपने लिखित शिकायत में कहा है, “कांस्टेबल ने अपनी बंदूक हम पर तान दी और इंस्पेक्टर यादव ने हमें दबोच लिया, धक्का-मुक्की की, बंदूक की बट और बूट से शरीर के अंदरूनी हिस्सों में मारा-पीटा. मैं जमीन पर गिर पड़ा. साथ ही हमें उन्होंने जान से मारने की कोशिश भी की. वह हम पर चीख रहा था कि चूंकि हम रेयान स्कूल के छात्र प्रद्युम्न की हत्या का केस देख रहे हैं, इसलिए हमें मार दिया जाएगा. उन्होंन हमें यह केस छोड़ने की धमकी दी और कहा कि नहीं तो हमें गंभीर परिणाम भुगतने होंगे.”

टेकरीवाल का कहना है कि उन्होंने पुलिस वालों को बताया कि वह सुप्रीम कोर्ट में वकील हैं, इसके बावजूद पुलिसकर्मी रुके नहीं. इन सबके बीच टेकरीवाल की पत्नी वाकये का अपने मोबाइल से वीडियोग्राफी करने लगीं. उनका कहना है कि टेकरीवाल की पत्नी ममता टेकरीवाल जब वीडियो बना रही थीं तो एक पुलिसकर्मी ने उन पर भी हमला किया.

टेकरीवाल ने यह भी आरोप लगाया है कि 100 नंबर पर कॉल करने पर PCR ने आने में 15 मिनट से अधिक समय लगा दिया और उनकी शिकायत भी नहीं दर्ज की. टेकरीवाल ने बताया कि पूरी घटना वहां लगे सीसीटीवी में भी कैद हुई है. टेकरीवाल ने एक पुलिसकर्मी की वर्दी पर लगे बैज से उसकी पहचान संजीव कुमार यादव के रूप में की है.

वहीं दिल्ली पुलिस का कहना है कि टेकरीवाल ने उलटे पुलिसकर्मियों के खिलाफ मुकदमा करने की धमकी दी. पुलिस ने अपने वक्तव्य में कहा है, “टेकरीवाल की पत्नी भी पुलिसकर्मियों के साथ लगातार बदतमीजी करती रहीं. उन्होंने मोबाइल पर वीडियो बनाकर पुलिसकर्मियों को डराने की भी कोशिश की. जबकि पुलिस सिर्फ अपना काम कर रही थी.”