गैस के दाम कम नहीं करेगी सरकार, ये स्कीम निकालकर छिड़का जले पर नमक

गैस के दाम कम नहीं करेगी सरकार, ये स्कीम निकालकर छिड़का जले पर नमक

नयी दिल्ली:  उज्ज्वला योजना के तहत किस्त पर गैस चूल्हा देने के बाद अब सरकार रसोई गैस (एलपीजी) सिलेंडर की रिफिलिंग भी किस्त पर करने की योजना बना रही है ताकि रोज कमाने-खाने वाले गरीब परिवार भी इसका लाभ ले सकें.उन्होंने कहा कि इसके लिए पायलट परियोजना जल्द शुरू की जायेगी.

पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने आज यहां विनएलपीजी (एलपीजी में महिला) के भारतीय चैप्टर की शुरुआत के मौके पर कहा कि सरकार ऐसी योजना पर विचार कर रही है जिसमें रिफिल वाले सिलेंडर की कीमत भी एकमुश्त न/न देकर किस्तों में देने की सुविधा मिल सके.

दर असल एलपीजी गैस के दाम बढ़ते बढ़ते साढ़े सात सौ रुपये के पार पहुंच गए हैं. इस पर भी उज्जवला योजना में पहला सिलेंडर खत्म होने के बाद सब्सिडी नहीं मिलती. नतीजा ये हुआ है कि आम लोग सिलेंडर भरवाने की सोच भी नहीं पा रहे. बड़ी संख्या में लोगों ने परंपरागत ऊर्जा स्रोत जैसे लकड़ियां जलाना बगैरह की ओर रुख किया है.

सरकार का धर्म संकट ये हैं कि वो सब्सिडी नहीं बढ़ा सकती. सब्सिडी बढ़ाने का मतलब है रिलायंस जैसी पेट्रोलियम कंपनी को नुकासान होना, क्योंकि सरकार उन्हें सब्सिडी दे नहीं सकती और फिर उनकी गैस सस्ती हो जाएगी. ऐसे में सरकार ने किश्तों में गैस देने का प्लान बनाया है. लेकिन इससे लोगों की गैस की खपत तो कम होने से रही.